बदायूं, जेएनएन : हरिद्वार से जल लेकर लौटे कांवड़ियों के जत्थे पर इस्लामनगर-बहजोई मार्ग पर दूसरे समुदाय के लोगों ने हमला बोल दिया। अचानक हुए हमले में चार कांवड़िये घायल हुए हैं। इनमें एक को ज्यादा चोट आई है। घटना से आक्रोशित कांवड़ियों ने रोड पर जाम लगाकर हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग उठाई एसपी देहात डॉ. एसपी सिंह समेत एसडीएम बिल्सी कई थानों की पुलिस लेकर मौके पर पहुंच गए और कांवड़ियों को समझाने की कोशिश की। आक्रोशित भीड़ ने इस दौरान एक प्राइवेट बस में भी तोड़फोड़ की।

कोतवाली बिसौली क्षेत्र के गांव सिद्धपुर के कांवड़ियों का एक जत्था सोमवार को वापस लौटा था। वनखंडी मंदिर पर दर्शन करके यह जत्था गांव को जा रहा था। रास्ते में ईदगाह होने के कारण पुलिस ने उनका डीजे बंद करवा दिया। कांवड़िये शांतिपूर्वक आगे बढ़ गए। इस दौरान पीछे से टेंपो और बाइकों पर सवार होकर पहुंचे दूसरे समुदाय के युवकों ने इस जत्थे पर हमला बोल दिया।

अचानक हुए हमले से कांवड़िये संभल भी नहीं पाए और अफरातफरी मच गई। कांवड़ियों को घेरकर पीटा गया, इनमें जितेंद्र नाम के युवक के सिर में काफी चोट आई है। मामले की जानकारी पर पुलिस पहुंची तो हमलावर भाग निकले। आक्रोशित कांवड़ियों ने वहां जाम लगाकर नारेबाजी शुरू कर दी। आसपास गांवों के लोग भी कांवड़ियों के समर्थन में पहुंच गए। वहां से गुजर रही एक निजी बस में भी तोड़फोड़ की गई। इधर, पुलिस ने यह आश्वासन दिया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा। हालांकि अभी कांवड़िये सड़क पर ही डटे हुए हैं।

कांवड़ियों पर हमला हुआ था। उन्हें समझाने की कोशिश की जा रही है। हमलावरों की गिरफ्तारी की भी कोशिश की जा रही है। किसी को बख्शा नहीं जाएगा। - डॉ. एसपी सिंह, एसपी देहात

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Edited By: Abhishek Pandey