Move to Jagran APP

सुबह-शाम रही गलन, दिन में धूप खिलने पर मिली राहत

न्यूनतम पारा नौ व अधिकतम 19 डिग्री रहापूर्व मंत्री ने मसौली में कंबल बांटे

By JagranEdited By: Sun, 02 Jan 2022 12:00 AM (IST)
सुबह-शाम रही गलन, दिन में धूप खिलने पर मिली राहत
सुबह-शाम रही गलन, दिन में धूप खिलने पर मिली राहत

बाराबंकी : सर्दी का पारा शनिवार को भी कंपाने वाला रहा। सुबह-शाम गलन रही लेकिन दिन में धूप खिलने से राहत मिली। न्यूनतम पारा नौ व अधिकतम 19 डिग्री सेल्सियस रहा। ठंड से बचाव के लिए सार्वजनिक स्थानों पर अलाव जलवाए जा रहे हैं कि अलाव सिर्फ शाम को जलवाए जाते हैं इससे सुबह लोगों को उसका लाभ नहीं मिल पाता है जबकि सुबह 10-11 बजे तक जबरदस्त ठंड होती है। नगर के धनोखर चौराहे पर भोर चार बजे से ही समाचार पत्र विक्रेता व अन्य लोगों का जमावड़ा होने लगता है। तब अलाव की ज्यादा जरूरत होती है। सुबह सात बजे से नौ बजे तक सतरिख नाका चौराहा पर दिहाड़ी श्रमिक काम की तलाश में आते हैं। उन्हें भी ठंड से जूझना पड़ता है। रात को इतनी कम लकड़ी अलाव में डाली जाती है कि दो-तीन घंटे बाद उसमें आग नहीं बचती।

पूर्व मंत्री ने वितरित किए कंबल: बाराबंकी: पूर्वमंत्री अरविद सिंह गोप एवं पूर्व विधायक रामगोपाल रावत ने पूर्व जिला पंचायत सदस्य शकील सिद्दीकी के पिता स्व. हाजी मोल्हे सिद्दीकी की तीसरी पुण्यतिथि पर क्षेत्र के पांच सैकड़ा से अधिक जरूरतमंद लोगों को सर्दी से बचने के लिए कंबल का वितरण किया। पूर्व जिलाध्यक्ष डा. कुलदीप सिंह, ताज बाबा राइन आदि मौजूद रहे। जैदपुर रोड स्थित शिव बिहार कालोनी में संचालित चाइल्ड लाइन 1098 के कार्यालय में निराश्रित 50 जरूरतमंद बच्चों को गर्म कपड़े व जूता-मोजा का वितरण किया। इस मौके पर चाइल्ड लाइन के निदेशक रत्नेश कुमार, इकबाल राही, कवि अनिल कुमार श्रीवास्तव, यातायात निरीक्षक देवी चरन गुप्त सहित अन्य मौजूद रहे। बनीकोडर ब्लाक के छंदवल में चाइल्ड फ्रेंडली स्कूल के 100 बच्चों को भी सामाजिक कार्यकर्ता अशोक कुमार मिश्र, प्रधानाध्यापक विनोद कुमार, शिक्षक वीरेंद्र कुमार, शारदा रावत सहित अन्य मौजूद रहे।