जागरण संवाददाता, खेकड़ा : शामली में आयोजित एक सांस्कृतिक एवं साहित्य कार्यक्रम में द कर्तव्य आर्गेनाइजेशन की ओर से श्रेष्ठ साहित्य के लेखन एवं प्रचार-प्रसार के लिए खेकड़ा में जन्मे साहित्यकार तेजपाल ¨सह धामा को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष एवं दिल्ली हाईकोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता मनीष जैन ने कहा कि उनकी पुस्तकें भारतीय संस्कृति के संरक्षण एवं प्रसार-प्रचार में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं।

बच्चों में साहित्य के प्रति रुचि जगाने व ज्ञानवर्धन के लिए शामली के वीडी इंटर कालेज में तीन दिवसीय पुस्तकों की प्रदर्शनी का आयोजन किया गया था। प्रदर्शनी में यूपी, दिल्ली राजस्थान व हिमाचल से साहित्यकारों ने अपनी पुस्तकों को शामिल किया था। नगर निवासी साहित्यकार तेजपाल ¨सह ने भी अपनी 300 सौ से अधिक पुस्तकें प्रदर्शनी में रखी थी। करीब 50 हजार बच्चों ने तीन दिन दिन तक पुस्तकों का अवलोकन कर खरीदारी भी की। तेजपाल ने बताया, उनकी करीब एक हजार पुस्तकें बच्चों ने पसंद की और खरीदीं। समापन समारोह में साहित्यकार को प्रशस्ति पत्र व पुरस्कार देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर मनीष जैन, जिला आर्य प्रतिनिधि सभा के पदाधिकारी एवं अन्य लोग मौजूद रहे।