अलीगढ़, जागरण संवाददाता। Aligarh news : बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के पूर्व पदाधिकारियों ने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम को मुस्लिम अपना पूर्वज मानते हैं। उनका सम्मान करते आए हैं और करते रहेंगे। श्रीराम को पैंगबर बताने के भाजपा नेत्री रूबी आसिफ खान के बयान को निंदनीय बताया। उन्हें हिंदू धर्म में आस्था है तो गंगाजल और गोमूत्र पीकर अपना शुद्धिकरण कर लें, जिससे समाज को पता चल सके कि वसीम रिजवी की तरह उन्होंने इस्लाम धर्म त्याग दिया।   

इसे भी पढ़ें : *शिया धर्म गुरु Kalbe Jawad अलीगढ़ में बोले, Kaba Sharif में औरत और मर्द एक साथ पढ़ते हैं नमाज*

वसीम रिजवी को दुनियाभर ने सराहा

अलीगढ़ जामा मस्जिद प्रबंधक कमेटी के वरिष्ठ सदस्य व पूर्व पार्षद मुजफ्फर सईद, शायर बाबर इलियास, सामाजिक कार्यकर्ता सलीम मुख्तार, मौलाना नौशाद अहमद, शराफत अली गुड्डू ने एक प्रेसनोट में कहा है कि रूबी आसिफ को यह स्पष्ट करना होगा कि वे हिंदू धर्म में आस्था रखती हैं या इस्लाम धर्म में? वसीम रिजवी ने इस्लाम धर्म का त्याग कर गोमूत्र पीकर हिंदू धर्म अपनाया था। दुनिया भर में इस फैसले की जबरदस्त सराहना हुई। आज वह हिंदू समाज में सम्मान की नजरों से देखे जाते हैं, क्योंकि, उन्होंने एक धर्म का पालन किया। दो धर्मों का पालन करने वाला न सच्चा मुसलमान हो सकता है न सच्चा हिंदू।

पूर्ण रूप से हिंदू धर्म अपनाए रूबी

रूबी को चाहिए कि वह हिंदू धर्मगुरु की मदद से मंदिर में जाकर पूर्ण रूप से हिंदू धर्म अपना लें। गंगाजल और गोमूत्र पीकर अपना शुद्धीकरण करा लें। दो नाव में सवार व्यक्ति कभी किनारे नहीं पहुंचता और डूब जाता है। रूबी अगर यह कहती हैं कि मेरी दोनों धर्मों में आस्था है तो जिस तरह वह आवे जमजम पीती हैं, जिसे इस्लाम में पवित्र माना गया है, उसी तरह गंगाजल और गोमूत्र पिएं। इन्हें हिंदू धर्म में पवित्र माना गया है। मुसलमान और हिंदू दोनों इस इंतजार में हैं कि वह गंगाजल और गौमूत्र पीकर कब स्पष्टता जाहिर करतीं हैं। प्रेसनोट में कहा कि जहां तक मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की बात है तो मुसलमान उनको अपना पूर्वज मानते हैं, सम्मान करते आए हैं और करते रहेंगे। रूबी के बयान ने हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की तौहीन की है।

इनका कहना है

हम देश में हिंदू-मुस्लिम एकता की मिसाल कायम करना चाहते हैं। जो लोग हमारे बयान की निंदा करते हैं, वे दंगा भड़काने का काम कर रहे हैं। उन्होंने सांप्रदायिक सौहार्द जैसा कोई काम नहीं किया। ये लोग थानों में दलाली करते हैं, सट्टा कराते हैं।

- रूबी आसिफ खान मंडल उपाध्यक्ष, भाजपा महिला मोर्चा

Edited By: Anil Kushwaha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट