आगरा, जागरण टीम। आगरा आ रहे हैं तो यहां के किला को देखना न भूलें। इसकी खूबसूरती देखने लायक है। यूनेस्को ने भी इसे वर्ल्ड हेरिटेज की लिस्ट में शामिल किया है। आगरा किला ताजमहल से महज दो किमी की दूरी पर है। ताजमहल देखने वाले सैलानी किला का भी दीदार जरूर करते हैं। मुगल बादशाह अकबर द्वारा बनवाए गए इस किला में कई ऐसी खास जगहें हैं जो आप देखकर उन्हें अपनी आंखों में कैद कर लेंगे।

आगरा किला का इतिहास

देश में बाबर, हुमांयु, अकबर, जहांगीर, शाहजहां और औरंगजेब जैसे मुगलों ने शासन किया था। आगरा को मुगलों ने अपनी राजधानी बनाया था। मुगलों का खजाना आगरा किला में ही रखा जाता था। सिकंदर लोदी दिल्ली का पहला सुल्तान था, जिसने अपनी आगरा यात्रा के दौरान इसकी मरम्मत कराई और 1506 ईसवी तक इसे अपनी राजधानी बनाया। 1517 में उसकी मृत्यु के बाद उसके पुत्र इब्राहिम लोदी ने 9 सालों तक शासन किया। जिस दौरान उसने कई जगहें, मस्जिदें और कुएं बनवाएं।

पानीपत के बाद मुगलों ने किया शासन

पानीपत के बाद यहां मुगलों ने शासन किया। उनके खजाने में कोहिनूर हीरा भी शामिल था। 1530 में इस किले में हुमायुं का राजतिलक हुआ। जहां एक युद्ध में वो शेहशाह सूरी से हार गया जिसके बाद किले पर उसका कब्जा हो गया। 

आगरा किला का इतिहास

अकबर ने 1558 में इसे अपनी राजधानी बनाया और पूरे 8 साल तकरीबन 4000 कारीगरों ने मिलकर इस किले को तैयार किया। 1573 में ये पूरा बनकर तैयार हुआ। यहां जोधाबाई महल भी है।

दीवान-ए-आम

ये शाहजहां द्वारा बनाया गया हॉल है। पहले इसे लाल रंग के पत्थर से बनाया गया था लेकिन बाद में यूनिक लुक देने के लिए सफेद संगमरमर से बनाया गया।

दीवान-ए-खास

यहां जनता दरबार लगता था। जहांगीर का सिंहासन इस जगह को बनाता था खास।

शीश महल

शीशों से सजा हुआ महल। दीवारों पर छोटे-छोटे शीशे लगे हुए हैं जो मुगलों के समय में वस्त्र बदलने का कमरा हुआ करता था।

नगीना मस्ज़िद

खासतौर से महिलाओं के लिए बनाया गया मस्जिद है जिसके अंदर महिला मीना बाजार था जिसमें केवल महिलाएं ही सामान बेचती थी।

रैपिड रेल स्‍टेशन पर प्रीमियम कोच के यात्री एक ही टिकट पर ले सकेंगे वेटिंग लाउंज का भी आनंद

मुसम्मन बुर्ज

एक ऐसा टॉवर है जो अष्टकोणीय है और यहां से ताजमहल बहुत ही खूबसूरत और साफ दिखाई देता है।

अकबर महल

अकबर का मशहूर महल आज भी इसमें है। जहां अकबर में अपनी अंतिम सांसें ली थी। पूरा महल लाल रंग के पत्थरों से बना हुआ है।

खास महल

सफेद संगमरमर से बना हुआ यह महल रंगसाजी की बेमिसाल निशानी है।

आगरा किला की खासियत

आगरा किला की बनावट काफी हद तक दिल्ली के लाल किले में मिलती-जुलती है। इसे बनाने में भी लाल रंग के बलुआ पत्थरों और सफेद संगमरमर का इस्तेमाल किया गया है। किला का आकार अर्ध चंद्राकार है। आगरा किला के तीनों तरफ सड़क बनी हुई है। यमुना ते तरफ वाले सड़क मार्ग को यमुना किनारा मार्ग कहते हैं, जो ताजमहल के पश्चिमी दरवाजे तक पहुंचाता है।

Mathura News: घर में जन्मी तीसरी बेटी, अधेड़ उम्र के बाप को समाज ने मारे ताने, गरीबी में उठाया ऐसा कदम कि बना कन्या का कातिल

आगरा किला के चारों कोने पर चार द्वार हैं। जिनमें से मुख्य द्वार दिल्ली द्वार है जो बहुत ही भव्य तरीके से बनाया गया है। जिसके अंदर भी एक द्वारा है जो हाथी पोल कहा जाता है। दूसरा अकबर दरवाजा है जो किले की खाई के पार बना हुआ है।

ऐसे पहुंच सकते हैं आगरा किला तक

आगरा हवाई, सड़क और रेल मार्ग द्वारा जुड़ा हुआ है। यहां पहुंचना बहुत ही आसान है। 

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट