नई दिल्ली (टेक डेस्क)। वर्ष 2018 खत्म होने वाला है। इस वर्ष हमने तकनीक क्षेत्र में कई इनोवेशन्स होते देखें। हमने देखा कि किस तरह स्मार्टफोन्स से लेकर स्पीकर्स तक गैजेट्स को दमदार बनाया गया है। देखा जाए तो कई कंपनियों ने इस वर्ष अपने प्रोडक्ट की ओवरऑल परफॉर्मेंस या एक्सपीरियंस को बेहतर किया है और यही स्ट्रेटजी कंपनियां अगले वर्ष भी अपनाने की कोशिश में हैं। साल के खत्म होने के साथ यूजर्स में यह उत्सुकता रहती है कि कंपनियां अगले वर्ष क्या नया पेश करेंगी। यहां हम यह बता रहे हैं कि वर्ष 2019 में आपको क्या नया मिल सकता है।

वर्ष 2019 में ये हो सकते है टेक ट्रेंड्स:

इस वर्ष आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यूजर्स के लिए एसेसिबल बना दिया गया है। वहीं, अगले वर्ष यानी 2019 में आपको स्मार्ट कनेक्टेड डिवाइस में काफी कुछ बदलाव देखने को मिलेगा। स्मार्ट कनेक्टेड डिवाइसेज आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग कैल्कुलेशन पर आधारित होंगी। हर स्मार्टफोन कैमरा Google Lens से लैस होगा। इसके जरिए कैमरे के जरिए फॉरेन लैंग्वेज को ट्रांसलेट करना या पढ़ना आदि किया जा सकेगा। जब आप टाइप करेंगे तो मेल क्लाइंट आप अगला क्या शब्द लिखने वाले हैं इसे पहले से ही जान जाएगा। इस तरह की क्षमताओं को किसी डिवाइस में देने के लिए एप्पल जैसी कंपनियां कोशिश कर रही हैं।

हर प्रोडक्ट होगा स्मार्ट:

स्मार्ट स्पीकर को इस वर्ष स्मार्ट हब बना दिया गया है जो आपके घर की लाइट्स को मैसेज करता है। अब इसे और स्मार्ट बनाया जाएगा जो आपके घर के अन्य ऑब्जेक्टस को भी मैनेज करने में मदद करेगा। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से संबंधित कई नए इनोवेशन इस वर्ष हो सकते हैं। साथ ही हाई-एंड हेडफोन्स, टेलिविजन या स्पीकर जो गूगल अस्सिटेंट, एलेक्सा या सिरी पर आधारित होंगे लॉन्च किए जा सकते हैं।

ब्रॉडबैंड क्रांति:

अगर वर्ष 2018 में लाखों यूजर्स ऑनलाइन आए थे। तो 2019 में वही लाखों यूजर्स हाई-स्पीड फाइबर नेटवर्क पर अपग्रेड करेंगे। यह सब होगा JioFiber से जो 100mbps की फ्री इंटरनेट स्पीड उपलब्ध कराएगा। इसके जरिए Netflix पर हाई-डेफिनेशन कंटेंट को हाई-स्पीड इंटरनेट पर स्ट्रीम किया जा सकेगा। Spotify पर म्यूजिक स्ट्रीमिंग सर्विस को भारत में पेश किया जाएगा। यह मौजूदा प्लेयर्स जैसे Airtel के लिए चुनौतीपूर्ण होगा।

5G डिवाइसेज:

5G नेटवर्क्स और डिवाइसेज के बारे में कई लोग काफी समय से बात कर रहे हैं। वहीं, देखा जाए तो भारत अभी भी 4G के मामले में पीछे चल रहा है। 5G को लेकर कुछ ऐसी उम्मीदें भी लगाई जा रही हैं जो गलत हैं। देखा जाए तो 5G CCTV कैमरा से स्मार्ट कार्स तक कनेक्टेड डिवाइसेज को व्यवस्थित रखने में मदद करेगा। निश्चित तौर पर यह बेहतर कॉल क्वालिटी या तेज वीडियो डाउनलोड करने के लिए नहीं बनाया गया है क्योंकि यह काम तकनीकी रूप से 4G का है। हालांकि, यह 8K कंटेंट, VR एलिमेंट्स के साथ 3D कंटेंट की स्ट्रीमिंग में मदद करेगा जो अभी संभव नहीं है। वर्ष 2019 फरवरी में मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस के दौरान पहली 5G डिवाइस लॉन्च की जाने की संभावना है।

Smartphones 2.0:

वर्ष 2019 में स्मार्टफोन इंडस्ट्री में डिस्प्ले टेक्नोलॉजी को कई नए फॉर्म फैक्टर्स की शुरुआत होगी। इस वर्ष पहला फोल्डबेल स्मार्टफोन लॉन्च किया जा सकता है। इसके अलावा फोन में ज्यादा कैमरा सेंसर्स दिए जाएंगे जिससे परफेक्ट फोटो ली जा सकेंगी। कैमरा के साथ हाई-एंड स्मार्टफोन्स में बेहतर प्रोसेसिंग पावर दी जा सकती है।

यह भी पढ़ें:

अपने बैंक अकाउंट को हैक होने से इस तरह बचाएं, फॉलो करें ये टिप्स

Facebook पर अपने फ्रेंड्स और फोटोज को खोए बिना इस तरह कर सकते हैं अकाउंट डिलीट

करना चाहते हैं Google+ अकाउंट डिलीट तो इन 5 स्टेप्स को करें फॉलो यूजर्स 

Posted By: Shilpa Srivastava