नई दिल्ली (टेक डेस्क)। भारतीय क्रिकेट टीम के तीनों फार्मेट के कप्तान विराट कोहली के वेबसाइट को हैक कर लिया गया। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो कोहली के वेबसाइट को किसी बांग्लादेशी हैकर्स के ग्रुप ने हैक किया है। बांग्लादेश के एक अखबार के मुताबिक, हैकर्स ने खुद को साइबर सिक्युरिटी एंड इंटेलीजेंस (सीएसआई) ग्रुप का मेंबर बताया है। हैकिंग ग्रुप के मुताबिक विराट की वेबसाइट को हैक करने मकसद भारतीयों का अपमान करना नहीं है।

हैकर्स ने लिखा यह संदेश

कोहली के वेबसाइट को बैक करने के बाद हैकर्स ने संदेश लिखा, 'डियर आईसीसी, क्रिकेट जेंटलमैन गेम नहीं है, क्या हर टीम के बराबर अधिकार नहीं होने चाहिए, आईसीसी ये बताए कि लिटन दास कैसे आउट हैं? अगर आईसीसी ने पूरी दुनिया के आगे लिखित माफी नहीं मांगी और अंपायर के खिलाफ कड़ा एक्शन नहीं लिया तो ऐसे ही वो साइट हैक करते रहेंगे।'

इस वजह से किया हैक

आपको बता दें कि हाल ही में समाप्त हुए एशिया कप के फाइनल में बांग्लादेशी ओपनर लिटन दास ने शानदार शतक जमाया था। जिसकी मदद से बांग्लादेश और भारत के बीच खेले गए फाइनल में आखिरी गेंद पर फैसला हुआ और भारत इस मैच को तीन विकेट से जीतने में कामयाब हुआ था। अगर, आप भी चाहते हैं कि आपका सोशल मीडिया अकाउंट या वेबसाइट न हैक हो तो आपको इन बातों का ध्यान रखना पड़ेगा

नेटवर्क लॉक करना

ज्यादातर डाटा चोरी या हैकिंग की घटनाओं को असुरक्षित नेटवर्क की वजह से अंजाम दिया जाता है। अगर, आपका नेटवर्क असुरक्षित है तो हैकर्स आसानी से आपके नेटवर्क में सेंध लगा सकते हैं। हाल के दिनों में मोबाइल टेक्नोलॉजी काफी उत्कृष्ट हुई हैं, जिसकी वजह से डाटा में सेंध लगाना हैकर्स के लिए आसान हो गया है। अगर, आप अपने नेटवर्क को लॉक कर देते हैं तो किसी भी तरह के डाटा के आदान-प्रदान के लिए परमिशन लेना होगा। जिसकी वजह से डाटा में सेंध लगाना हैकर्स के लिए मुश्किल हो सकता है। अपने वाई-फाई और डाटा नेटवर्क को लॉक करके रखें ताकि डाटा हैक होने की संभावनाओं से बचा जा सकता है।

इनक्रिप्शन का उपयोग करना

डाटा को बचाने का एक उपाय यह भी है कि आप अपने महत्वपूर्ण डाटा को इनक्रिप्ट कर लें। आपको बता दें कि एन्क्रिप्शन अभेद नहीं होता है परन्तु यह डाटा को सुरक्षित रखने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। आपके नेटवर्क के विभिन्न बिंदुओं पर इनक्रिप्शन का इस्तेमाल करके डाटा के स्थानांतरण और आदान-प्रदान के दौरान होने वाले डाटा लॉस से आपकी जानकारियों को अच्छी तरह सुरक्षित कर देती है। 

यह भी पढ़ें:

Tecno ने बजट रेंज में तीन स्मार्टफोन ड्यूल रियर कैमरा और नॉच फीचर के साथ किया लॉन्च

Jio स्पेक्ट्रम नीलामी के 6 महीने के अंदर ही शुरू कर सकता है 5G सेवा

आधार पर SC के फैसले के बाद रिलायंस Jio और Paytm के eKYC पर पड़ सकता है असर 

Posted By: Harshit Harsh