नई दिल्ली(टेक डेस्क)। क्या आपको पता है कि आपके बच्चों पर एप्स की मदद से नजर रखी जा रही है? दरअसल हाल ही में आई एक रिपोर्ट में इस बात का दावा किया गया है कि गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद 3,000 से ज्यादा एप्स आपके बच्चों की गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं। ये एप्स आपके बच्चों की ऑनलाइन गतिविधियों पर नजर बनाए हुए हैं साथ ही उनसे जुड़े डाटा को एकठ्ठा कर रहे हैं।

ऑटोमेटिड टैस्टिंग प्रोसैस के जरिए शोधकर्ताओं ने पता लगाया है कि गूगल प्ले स्टोर पर करीब 3,337 एप्स हैं जो बच्चों से जुड़े डाटा को जुटा रहे हैं। ये एप्स परिवार या बच्चों से जुड़े हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि बच्चों पर नजर रखकर उनकी गतिविधियों को ट्रैक करना COPPA नियम का उल्लंघन है।

क्या है COPPA नियम?

COPPA का पूरा नाम ‘चिल्ड्रेन्स ऑनलाइन प्राइवेसी प्रोटेक्शन रूल’ है। इस नियम के तहत 13 साल से छोटे बच्चों का डाटा इक्कठा करना मना है। लेकिन गूगल प्ले स्टोर पर 3000 हजार से ज्यादा एप्स इस नियम की अनदेखी कर रहे हैं।

हैरान करने वाली रिपोर्ट

रिपोर्ट में शोधकर्ताओं ने कुल 5,855 एप्स को टेस्ट किया, जिनमें हैरान करने वाले कुछ आंकड़े सामने आ रहे हैं

  • 281 एप्स यूजर्स की इजाजत के बिना उनके कानटैक्ट और लोकेशन को एक्सेस कर रहे हैं।
  • 1,100 एप्स यूजर्स की पहचान से जुड़ी जानकारी को थर्ड पार्टी से साझा कर रहे हैं।2,281 एप्स गूगल की टर्म्स और पॉलिसीज पर खरे नहीं उतर रहे हैं।
  • 1280 फेसबुक एप्स ऐसे पाए गए हैं, जो 13 साल से छोटे बच्चों पर पाबंदी लगाने वाले नियम का सही से पालन नहीं कर रहे हैं।

डाटा लीक को लेकर मार्क जुकरबर्ग ने मांगी थी माफी

इससे पहले फेसबुक के संस्थापक और सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने डाटा लीक मामले में अमेरिका के सीनेट में सभी सांसदों के सामने सामूहिक रूप से माफी मांगी थी। जुकरबर्ग ने माना कि 2016 अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में उसके प्लेटफॉर्म का गलत इस्तेमाल हुआ, जिससे चुनाव के परिणाम पर भी असर पड़ा। जुकरबर्ग ने फेसबुक की गलती को अपनी गलती मानते हुए सबके सामने माफी मांगी। इसके साथ ही उन्होंने विश्वास दिलाया कि अब उनके और कंपनी की तरफ से दोबारा ऐसी गलती नहीं दोहराई जाएगी। मार्क जुकरबर्ग ने भारत में होने वाले चुनावों को लेकर कहा कि कंपनी निष्पक्ष चुनाव को लेकर लगातार काम कर रही है। जुकरबर्ग ने सीनेट कॉमर्स ऐंड जूडिशरी कमिटी के सामने पेश होकर फेसबुक के जरिए हुई गड़बड़ियों की जिम्मेदारी ली।

फेसबुक का बड़ा खुलासा

हाल ही में खुलासा हुआ था कि 'कैम्ब्रिज एनालिटिका' ने फेसबुक पर 5 करोड़ यूजर्स का डेटा चुराकर, उनका गलत इस्तेमाल किया था। इन आरोपों के बाद फेसबुक की चौतरफा आलोचना हुई थी। इस मामले पर अब फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने अहम खुलासे किए हैं। जुकरबर्ग के मुताबिक, साल 2016 में अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान 'कैम्ब्रिज एनालिटिका' ने फेसबुक के करीब 8 करोड़ 70 लाख यूजर्स की निजी जानकारी को अनुचित तरीके से शेयर किया था। जुकरबर्ग ने बताया कि ये कंपनी डोनाल्ड ट्रंप के लिए काम कर रही थी। ध्यान रहे कि फेसबुक के दिए आंकड़े और पिछले आंकड़ों में 3 लाख 70 हजार यूजर्स का अंतर है।

यह भी पढ़ें:

Apple के ipad को टक्कर देगा HP का Detachable Chromebook, क्रोम OS पर काम करेगा टैबलेट

Canon ने भारत में लॉन्च किया मिररलेस EOS M50 कैमरा, हर रोशनी में मिलेगी बेहतर फोटो

अपनी पसंद की भाषा में व्हॉट्सएप को करें इस्तेमाल, अपनाएं ये 5 आसान तरीके 

Posted By: Shridhar Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप