नई दिल्ली (शिल्पा श्रीवास्तवा)। Jio GigaFiber, टेलिकॉम कंपनी रिलायंस जियो कि ऑप्टिकल फाइबर-आधारित सर्विस लगभग 2 महीनों में पूरी तरह से रोलआउट हो सकती है। इस सर्विस के लॉन्च होने से बाजार में एक बार फिर वॉर का आगाज होने की उम्मीद लगाई जा रही है। इस सर्विस के तहत यूजर्स को हाई-स्पीड इंटरनेट कम कीमत में उपलब्ध कराया जाएगा। इस सर्विस को लेकर जागरण टेक टीम ने कंपनी से बात की है। उनका कहना है कि जो यूजर्स इस सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं वो इससे बेहद संतुष्ट हैं। 

क्या है मौजूदा स्थिति?

Jio GigaFiber की मौजूदा स्थिति को लेकर जियो कंपनी ने हमें बताया कि अभी भी इस सर्विस को पूरी तरह से रोलआउट होने में 2 से ढाई महीने का समय लगेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि कंपनी को इस सर्विस को पूरी तरह से रोलआउट करने के लिए हर क्षेत्र में लास्ट माइल कनेक्टिविटी उपलब्ध करानी होगी। इसके लिए जियो को हर सोसाइटी में आप्टिकल फाइबर बिछानी होंगी। जब हमने कंपनी से दिल्ली में सर्विस रोलआउट होने के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा, "हम दिल्ली को एक राज्य के तौर पर नहीं बल्कि कई सोसाइटीज के तौर पर देख रहे हैं। हम उस सोसाइटी को ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं जहां पर्चेजिंग पावर यानी खरीदने की क्षमता ज्यादा है। अगर हम किसी एक सोसाइटी में सर्विस उपलब्ध कराते हैं तो हमें उस सोसाइटी में हर घर तक कनेक्टिविटी उपलब्ध कराने के लिए ऑप्टिकल फाइबर पहुंचानी होंगी।" 

चुनिंदा यूजर्स कर रहे सर्विस का इस्तेमालकुछ यूजर्स इस सर्विस को इस्तेमाल कर रहे हैं और इसके लिए उन्होंने 4,500 रुपये का रजिस्ट्रेशन शुल्क भी दिया है। रजिस्ट्रेशन शुल्क के बाद यूजर्स इस सर्विस को अनलिमिटेड इस्तेमाल कर पा रहे हैं। हालांकि, TRAI ने फ्री सर्विस देने के लिए अब मना कर दिया है। ऐसे में जिन यूजर्स ने Jio GigaFiber का रजिस्ट्रेशन करवा लिया है उन्हें जब तक जियो के नए प्लान्स नहीं आ जाते तब तक फ्री सर्विस मिलेगी। वहीं, TRAI के आदेश के बाद जो भी यूजर इस सर्विस को लेंगे उन्हें आने वाले प्लान्स के अनुसार शुल्क अदा करना होगा।

इसी के साथ जो यूजर्स पहले से 4500 रुपये देकर इस सेवा को इस्तेमाल कर रहे हैं, वो प्लान्स आने के बाद अपनी पसंद अनुसार चुनाव कर सेवा को इस्तेमाल कर सकते हैं| अन्यथा सेवा को  अगर आगे इस्तेमाल ना करना हो तो वो यूजर्स रजिस्ट्रेशन की कीमत वापस पा सकते हैं। आपको बता दें, Jio GigaFiber कुछ शहरों में उपलब्ध कराया गया है। यहां यह सर्विस फ्री ट्रायल के आधार पर दी जा रही है। दिल्ली और मुंबई जैसे शहरों में पिछले 6-7 महीनों से Jio GigaFiber सर्विस को यूजर्स इस्तेमाल कर रहे हैं।

इसके अलावा, जो यूजर्स Jio GigaFiber का इस्तेमाल कर रहे हैं, उनसे हमने फीडबैक लिया। हमने दिल्ली पीतमपुरा में रहने वाले मोहित से बात की जो Jio GigaFiber का इस्तेमाल कर रहा है। उनका कहना है कि आज से करीब 1 से डेढ़ साल पहले उन्होंने 4,500 रुपये देकर यह सर्विस ली थी। इस सर्विस के जरिए वो दो टीवी, 4 स्मार्टफोन्स और 2 लैपटॉप्स को कनेक्ट करते हैं। इन सभी डिवाइसेज पर इंटरनेट की स्पीड बिल्कुल समान आती है। कभी भी उन्हें इंटरनेट से संबंंधित किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। उन्होंने Jio GigaFiber के इंटरनेट कनेक्शन पर PS4 जैसे गेम्स भी खेले हैं। गेम खेलने के दौरान उन्हें किसी भी तरह की कोई कनेक्शन प्रॉब्लम नहीं हुई। 

जियो कंपनी और मोहित से बात करने के बाद हम यह कह सकते हैं कि भले ही इस सर्विस को लॉन्च होने में देर कुछ देर हो रही है, लेकिन Jio GigaFiber के पूरी तरह से रोलआउट होने के बाद यूजर्स को निराशा नहीं होगी। वहीं, यह देखना भी दिलचस्प होगा कि Jio GigaFiber के रोलआउट के बाद कंपनियों के बीच किस तरह से प्राइस वॉर शुरू होती है। 

यह भी पढ़ें:

RBI के इस कदम से Paytm, Mobikwik जैसे मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल होगा और भी सुरक्षित

इस वर्ष Jio GigaFiber पूरी तरह से होगा रोलआउट, जानें सर्विस की हर छोटी डिटेल

आप भी करते हैं मल्टीपल टीवी कनेक्शन्स इस्तेमाल, TRAI ने स्पेशल पैक जारी करने का दिया आदेश 

Posted By: Shilpa Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप