इसरो ने 20 उपग्रहों का प्रक्षेपण कर अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इसरो ने एक साथ 20 सैटेलाइट को लांच किया है। पीएसएलवी C-34 ने कार्टोसैट-2 सीरीज के साथ 19 दूसरी सैटेलाइट्स को लेकर आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से उड़ान भरी। आपको बता दें कि इसके लिए करीब 48 घंटों का काउंटडाउन चलाया गया। इस पूरे मिशन में लगभग 26 मिनट लगे। इसरो ने बताया कि सभी 20 सैटेलाइट्स का वजन करीब 1288 किलो है। कार्टोसैट-2 सीरीज पिछली कार्टोसैट-2, कार्टोसैट-2A और 2B की तरह है। कार्टोसैट-2 के साथ अमेरिकी, कनाडा, जर्मनी और इंडोनेशिया और भारतीय यूनिवर्सिटीज के भी 2 सैटेलाइट्स हैं।

पढ़े, ट्राई और इंटरनेट कॉल्स के बीच छिड़ी बहस, ट्राई ने जारी किया कंस्लटेशन पेपर

आपको बता दें कि इससे पहले इसरो ने अप्रैल 2008 में एक साथ 10 सैटेलाइस को लांच करने का रिकॉर्ड बनाया था। हालांकि, 2013 में नासा ने 29 सैटेलाइट्स और 2014 में रूस ने 33 सैटेलाइट्स को एक साथ भेजने का मिशन भी पूरा किया था। एक साथ 20 सैटेलाइट्स का प्रक्षेपण कर इसरो ने एक बार फिर भारत का नाम ऊंचा किया है। इसरो ने ये भी बताया है कि कार्टोसैट द्वारा भेजी जाने वाली तस्वीरें काटरेग्राफिक, शहरी, ग्रामीण, तटीय भूमि उपयोग, जल वितरण आदि के लिए मददगार होंगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस