नई दिल्ली(टेक डेस्क)। एप्पल ने पिछले साल लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से लैस अपना नया हैंडसेट आईफोन X पेश किया था। एप्पल का यह फोन बेस्ट-सेलिंग आईफोन्स में से एक नहीं रहा। इसका एक कारण इसका लिमिटेड स्टॉक भी रहा। प्रोडक्शन में देरी के कारण इसकी बिक्री की शुरुआत भी धीमी ही रही।

2018 की पहली तिमाही में 18 मिलियन यूनिट्स की बिक्री होने का अंदाजा लगाया गया है।

अब खबर है की KGI सिक्योरिटीज के विश्लेषक Ming-Chi Kuo के अनुसार आईफोन X के निराश करने वाले नम्बर्स के बाद इसे बंद किया जा सकता है। इसका बड़ा कारण चीन रहा। चीन के उपभोक्तओं को आईफोन X का डिस्प्ले कट आउट की वजह से इस्तेमाल करने में पहले आईफोन्स 5.5 इंच से भी काम लगा। आईफोन X में 5.8 इंच की स्क्रीन है लेकिन उसका इस्तेमाल करने वाला एरिया 5.5 इंच से भी कम है। उपभोक्ताओं को आईफोन 6 और 7 की सीरीज 10 से कहीं बेहतर लगी और एप्पल को भी इन्हीं सीरीज पर यूजर्स का अच्छा रिस्पांस मिला।

आईफोन X का भविष्य अभी निश्चित नहीं है। अभी आधिकारिक तौर पर तो कुछ कहा नहीं जा सकता। लेकिन Kuo के अनुसार आईफोन X 2018 के मध्य तक बंद किया जा सकता है। तब तक, उम्मीद है की आईफोन X की तकरीबन 62 मिलियन यूनिट्स की बिक्री हो जाएगी। यह पहले के 80 मिलियन यूनिट्स की बिक्री के अनुमान से कम है। भारत जैसे राष्ट्रों में भी आईफोन X को बहुत अच्छा रिस्पांस नहीं मिला। इसके पीछे फोन का महंगा होना था। भारत में यह फोन 89000 रुपये से शुरू है। उम्मीद है की आईफोन X से इंस्पायर मॉडल्स कम कीमत पर लॉन्च किए जाएंगे। खासतौर से 6.1 इंच का आईफोन SE फसाइडी के साथ आने की बात कही जा रही है। यह उपभोक्ताओं को आकर्षित कर सकता है। लेकिन यूजर्स की आईफोन के आने वाले मॉडल्स को लेकर क्या प्रतिक्रिया रहेगी, इसे लेकर अभी कुछ भी साफतौर से नहीं कहा जा सकता।

यह भी पढ़ें:

कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक शो 2018 की ये रहीं 4 बड़ी घोषणाएं

i7 प्रोसेसर के साथ लॉन्च हुआ दुनिया का सबसे पतला लैपटॉप Acer swift 7

CES 2018 में लॉन्च हुए खास गैजेट्स, आपकी नींद और स्किन का रखेंगे ख्याल

Posted By: Sakshi Pandya

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस