नई दिल्ली (टेक डेस्क)। मोबाइल फोन के बैटरी में होने वाले कई धमाके पिछले कुछ साल में सामने आए हैं। सबसे पहले Nokia के फीचर फोन के BL-5C बैटरी के फटने की घटनाएं सामने आईं थी। इसके बाद बीते कुछ साल में स्मार्टफोन्स के ब्लास्ट होने और इससे होने वाले दुर्घटनाओं के बारे में कई घटनाएं सामने आ चुकीं है।

पिछले साल सितंबर में Samsung Galaxy Note 9 स्मार्टफोन की बैटरी फटने की शिकायत दर्ज कराई है। यह शिकायत एक अमेरिकी महिला ने दर्ज कराई है। महिला की शिकायत के मुताबिक, जब वह लिफ्ट में थी तब उसका फोन बहुत ज्यादा गर्म हो गया। इसके बाद उसने फोन का इस्तेमाल बंद कर दिया और फोन को बैग में रख दिया। कुछ ही देर बाद उसे सीटी जैसी तेज आवाज आई। कुछ फटने की आवाज भी सुनाई दी। उसके बाद जब वह अपने पर्स को देखा तो उसमें धुआं निकल रहा था।

कुछ दिन पहले ही राजस्थान में एक शख्स की मौत स्मार्टफोन की बैटरी में हुए धमाके की वजह से हई है। ज्यादातर स्मार्टफोन या मोबाइल फोन की बैटरी फटने जैसी दुर्घटनाएं हमारी गलतियों की वजह से होती है। आज हम आपको मोबाइल फोन की बैटरी फटने जैसी घटनाओं को रोकने के लिए कुछ सलाह दे रहे हैं।

फोन चार्ज करते समय न करें इस्तेमाल

मोबाइल चार्ज करते समय मोबाइल के आसपास रेडिएशन हाई रहता है। इस कारण भी बैटरी गरम हो जाती है। इसलिए यह चार्जिंग के वक्त बात करने पर ब्लास्ट हो सकती है। कई बार यूजर्स की गलतियों की वजह से भी बैटरी ओवरहीट होकर फट जाती है। इसके अलावा बैटरी के सेल डेड होते रहते हैं जिससे फोन के अंदर के केमिकल में चेंजेस होते हैं और बैटरी फट जाती है।

बैटरी फटने से पहले मिलने वाले संकेत

  • फोन की स्क्रीन का ब्लर होना या स्क्रीन में पूरी तरह डार्कनेस आ जाना।
  • फोन बार-बार हैंग होना और प्रोसेसिंग का स्लो हो जाना।
  • बात करते वक्त फोन सामान्य रूप से ज्यादा गर्म हो जाना।

इस तरह करें खराब बैटरी चेक

  • अगर आपके पास फोन की बैटरी रिमूव करने का विकल्प है तो बैटरी को एक टेबल पर रखें। इसके बाद इसे घुमाकर देखें, यदि बैटरी फूली हुई है तो तेज घूमेगी। अगर बैटरी तेज घूमती है तो इसका इस्तेमाल करना बंद कर दें।
  • जिन स्मार्टफोन में इनबिल्ट बैटरी होती है, उन्हें हीट से ही पहचाना जा सकता है। फोन गरम हो रहा है तो चेक करवाएं। 20 फीसद बैटरी रहते हुए ही फोन को चार्ज पर लगा दें। बैटरी पूरा खत्म न होने दें। पूरी बैटरी खत्म होने के बाद चार्ज पर लगाने में ज्यादा पावर सप्लाई की जरूरत होती है। इसकी वजह से भी बैटरी ब्लास्ट हो सकता है।

कभी न करें ये गलतियां

  • कभी भी डुप्लीकेट चार्जर, बैटरी आदि का इस्तेमाल न करें। जिस ब्रांड का स्मार्टफोन या मोबाइल फोन इस्तेमाल कर रहे हैं उसी ब्रांड का चार्जर इस्तेमाल करें।
  • कभी भी चार्जर के पिन को भींगने न दें। पिन के सूख जानें के बाद ही इसे चार्ज पर लगाएं।
  • फोन की बैटरी खराब होने पर उसे तुरंत बदल दें। हमेशा ऑरिजिनल बैटरी का ही इस्तेमाल करें।
  • फोन को कभी भी 100 फीसद चार्ज न करें। फोन को 80 से 90 फीसद ही चार्ज करें। इससे ज्यादा चार्ज करने पर फोन ओवरचार्ज हो सकता है और ब्लास्ट होने का खतरा हो सकता है।
  • रात में कभी भी मोबाइल को चार्ज में लगाकर न छोड़ें। ऐसा करने से बैटरी की परफॉर्मेंस पर भी असर पड़ता है।
  • फोन को कभी भी गर्म जगह पर न रखें और न ही चार्ज करें। 

यह भी पढ़ें:

OnePlus 7 vs OnePlus 6T: क्या हैं बड़ा अंतर

Airtel, Reliance Jio और Vodafone-Idea के 21 बेस्ट 4G प्लान्स

Airtel के इन प्लान्स में मिलेगी Jio और Vodafone से ज्यादा वैलिडिटी, अनलिमिटेड कॉलिंग और डाटा

Posted By: Harshit Harsh