नई दिल्ली (साक्षी पंड्या)। सैमसंग का नाम प्रीमियम और बड़े स्मार्टफोन्स में रहा है। सैमसंग के लिए एक चुनौती यह भी रही है की बड़े स्मार्टफोन्स बनाने के चक्कर में उसके फोन्स कभी-कभी पॉकेट फ्रेंडली नहीं रहते। सैमसंग गैलेक्सी सीरीज का भी यही हाल है। Galaxy Note 9 में Galaxy S सीरीज से हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के मामले में खास बदलाव नहीं हैं। तो इसमें नया क्या है? इसमें S Pen को नया कहा जा सकता है। कंपनी S Pen की उपयोगिता पर और काम कर रही है। क्या इसके अलावा फोन में और कुछ खास दिया गया है? जानते हैं Samsung Galaxy Note 9 के रिव्यू में:

डिजाइन और डिस्प्ले: Notch स्क्रीन के ट्रेंड में रहते हुए सैमसंग उन चुनिंदा कंपनियों में से एक है जिसने Notch को अपने फोन्स के डिजाइन से दूर रखा है। हालांकि, फोन का डिजाइन स्लीक है लेकिन इसमें कटिंग एज जैसा कुछ नहीं है। Galaxy Note 9 काफी बड़ा फोन है और कंपनी के प्रयासों के बाद भी फोन हैंडी नहीं बन पाया है। इसका ग्लास बैक स्लिपरी नहीं है। फोन का वेट 201g है। इसका फ्रंट और रियर ग्लास का है और फ्रेम एल्युमिनियम है। फोन की लुक प्रीमियम है और ऐसा लगता है की इसके डिजाइन पर तसल्ली से काम किया गया है। डिजाइन के मामले में Minus प्वाइंट यही है की यह Note 8 से कुछ खास अलग नहीं है। Note 8 की 6.3 इंच के मुकाबले Note 9 का स्क्रीन साइज बड़ा है। इसका स्क्रीन साइज 6.4 इंच का है। सैमसंग का अपना AMOLED डिस्प्ले काफी सालों से फ्लैगशिप फोन्स के लिए अच्छा काम कर रहा है। इस फोन का डिस्प्ले भी ब्राइट और क्रिस्प है।

गैलेक्सी नोट सीरीज का हॉलमार्क या खासियत S Pen है। Galaxy Note 9 के साथ अब यह स्टाइल स्टेटमेंट बनता जा रहा है। हमारे पास रिव्यू के लिए ब्लू कलर की डिवाइस है जिसके साथ गोल्ड कैप के साथ येलो कलर का पेन दिया गया है। इसी तरह दूसरे कलर के डिवाइस के साथ मैच करने वाला S pen दिया गया है। इसके अलावा फोन में बड़ा बदलाव इसका फिंगरप्रिंट सेंसर है जो अब कैमरा के बिलकुल नीचे दिया गया है। फिंगरप्रिंट स्कैनर तक पहुंचना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। इसके अलावा वॉल्यूम बटन की जगह Bixby बटन होने से आप कई बार गलती से Bixby बटन को प्रेस कर देंगे।

कई लोगों को इस बात की खुशी भी होगी की सैमसंग ने 3.5mm सॉकेट को हटाया नहीं है। Notch और हैडफोन जैक जैसे ट्रेंड को फॉलो ना करके सैमसंग ने समझदारी की है और इस बात में यह इसका प्लस प्वाइंट कहा जा सकता है। Galaxy Note 9 में वाटर और डस्ट रेजिस्टेंस के लिए IP68 रेटिंग दी गई है।

 

Galaxy Note 9 हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर: सैमसंग ने कुछ नया ना करते हुए Note 9 में भी Exynos 9810 दिया है। इसका मतलब है की इस फोन में हार्डवेयर के मामले में कुछ नया देखने या बताने को नहीं है। फिर भी Exynos 9810 एक पावरफुल SoC है। लेकिन हमने यह भी ध्यान दिया है की गैलेक्सी S9 समेत स्नैपड्रैगन 845 के साथ आने वाली इस साल की कई डिवाइसेज ने बेंचमार्क में टॉप किया है।

Galaxy Note 9 की सुपर AMOLED स्क्रीन का रिजोल्यूशन 1440x2960 है। इसमें 516ppi की डेंसिटी है। यूजर्स पॉवर सेविंग के लिए रिजोल्यूशन को कम भी कर सकते हैं। सैमसंग का फोन स्टैंड-बाय मोड पर होने पर नोटिफिकेशन्स और टाइम आइकन्स डिम दिखते हैं।

इस फोन को दो वैरिएंट्स में चुना जा सकता है। इसका बेस वैरिएंट 128GB स्टोरेज और 6GB रैम के साथ आता है। इसके अलावा 512GB स्टोरेज और 8GB रैम का विकल्प मौजूद है। भारत में, Galaxy Note 9 में हाइब्रिड ड्यूल सिम डिजाइन दिया गया है। अगर आपको दूसरी सिम नहीं डालनी तो स्टोरेज के लिए माइक्रोएसडी कार्ड का उपयोग किया जा सकता है। सैमसंग के 512GB के माइक्रोएसडी कार्ड के साथ आपको कुल 1TB तक स्पेस मिल सकता है। स्क्रीन के ऊपर Iris स्कैनर दिया गया है जो फेस रिकग्निशन से बेहतर बॉयोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन उपलब्ध करवाता है। आप सैमसंग का इंटेलीजेंट स्कैन विकल्प का प्रयोग भी कर सकते हैं जो आइरिस और फेस रिकग्निशन दोनों का इस्तेमाल करता है। हमारी रिव्यू यूनिट एंड्रॉइड ओरियो 8.1 पर कार्य कर रही है। सैमसंग ने अभी यह साफ नहीं किया है की इस डिवाइज को एंड्रॉइड Pie अपडेट कब मिलेगा।

Galaxy Note 9 S Pen: S pen में सबसे बड़ा बदलाव यह हुआ है की अब यह ब्लूटूथ LE कनेक्टिविटी सपोर्ट करता है। इस तरह से पेन फोन के रिमोट कंट्रोल में तब्दील हो जाता है। इसमें सिर्फ एक बटन उपलब्ध है तो आप सिंगल या डबल क्लिक कर सकते हैं। इसका सबसे अच्छा फीचर यह है की अब Pen की मदद से ही आप पिक्चर्स ले सकते हैं। Pen से ही आप फ्रंट और रियर कैमरा में स्विच भी कर सकते हैं। इसी के साथ Powerpoint प्रेजेंटेशन में स्लाइड्स को आगे-पीछे करने के लिए भी आप Pen का इस्तेमाल कर सकते हैं।

S Pen की बैटरी बहुत कम है और इसके लगातार इस्तेमाल पर यह मात्र आधे घंटे में डिस्चार्ज हो सकती है। हालांकि, इसे चार्ज होने में भी 40 सेकेंड्स का ही समय लगता है। ब्लूटूथ कनेक्टिविटी की एक अच्छी बात यह भी है की अगर आप Pen कहीं छोड़ देंगे तो आपको पता चल जाएगा। Pen की मदद से आप हैंडराइटिंग की ही तरह बेहद आसानी से लिख सकते हैं। इसे आप नोट्स बनाने से लेकर स्केच बनाने तक के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। आप अपने टेक्स्ट को तुरंत GIF में भी कन्वर्ट कर सकते हैं।

Galaxy Note 9 परफॉरमेंस: सैमसंग का UI का अनुभव बहुत अच्छा है और बहुत स्मूथ चलता है। स्क्रीन साइज के कारण वीडियोज देखने और गेम्स खेलने के लिए यह एक अच्छी डिवाइस है। इसके स्टीरियो स्पीकर्स भी लाऊड और पावरफुल है। कंपनी के अनुसार, फोन में हीट को कम करने के लिए वाटर-कार्बन कूलिंग सिस्टम का प्रयोग किया गया है। गेम्स खेलते हुए और वीडियोज देखते समय फोन थोड़ा हीट तो होता है लेकिन असहज महसूस नहीं होता। PUBG और Fortnite (गैलेक्सी नोट 9 के लॉन्च इवेंट पर इसका एंड्रॉइड बीटा वर्जन आधिकारिक तौर से रिलीज किया गया था) दोनों गेम्स को हम हाई क्वालिटी पर खेल पाए और इसका गेमप्ले पूरी तरह से स्मूथ रहा।

Galaxy Note 9 बैटरी: फोन का वेट काफी हद तक इसकी 4000 mAh बैटरी के कारण भी है। सैमसंग के अनुसार बैटरी एक दिन तक काम करेगी। इसके साथ वायरलेस और क्विक चार्जिंग दोनों के विकल्प दिए गए हैं। औसत इस्तेमाल के साथ गेमिंग और एचडी वीडियोज देखने के बाद भी फोन पूरा दिन चल जाता है।

 

Galaxy Note 9 कैमरा: Galaxy Note 9 की कैमरा डिटेल्स Galaxy S9 प्लस जैसी ही हैं। फोन के रियर प्राइमरी कैमरा में वेरिएबल अपर्चर उपलब्ध है। इसके पीछे का आइडिया यह था की f/2.4 और f/1.5 में स्विच करने पर बिना शटर खोले कैमरा में अधिक लाइट एंटर कर सकती है। इसे मैन्युअली प्रो मोड में जाकर इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके सेकेंडरी कैमरा में 2X जूम लेंस और 12MP सेंसर दिया गया है। सैमसंग ने ऐसा इसलिए किया ताकि दोनों सेंसर्स से पोर्ट्रेट मोड शूट किया जा सके। सैमसंग ने कैमरा में AI मोड भी दिया है जो पिक्चर में ऑब्जेक्ट को डिटेक्ट कर लेता है। लेकिन हमें AI के साथ और उसके बिना ली गई पिक्चर्स में कुछ बड़ा अंतर महसूस नहीं हुआ। सैमसंग में AR इमोजी और Bixby भी हैं जिनका होना-ना होना एक बराबर है। इस फोन की कैमरा क्वालिटी अच्छी है और जूम करने पर भी फोटो क्वालिटी खराब नहीं होती। इसमें 10 मिनट तक की 4K 30fps वीडियो रिकॉर्डिंग की जा सकती है। इसमें सुपर स्लो मोशन भी उपलब्ध है। सुपर स्लो मोशन में रिकॉर्डिंग 720p पर 960fps से शूट होती है। इसका 8MP फ्रंट कैमरा f/1.7 अपर्चर और ऑटोफोकस फीचर के साथ आता है।

हमारा फैसला: Galaxy Note 9 काफी अच्छा फोन है और इसमें टॉप-एन्ड फीचर्स भी उपलब्ध हैं। अगर आप इतना खर्च कर सकते हैं तो यह फोन जरूर एक अच्छा विकल्प है। हालांकि, सैमसंग की S सीरीज और इसमें कुछ खास अंतर नहीं है। इसकी बड़ी बैटरी भी इसके बड़े प्लस पॉइंट में से एक है। लेकिन वनप्लस 6/6T, अासुस जेनफोन 5Z जैसे नए फोन्स तकरीबन तुलनात्मक फीचर्स और परफॉरमेंस दे रहे हैं। इनमें कमी है तो बस S पेन और बड़ी बैटरी जैसे फीचर्स की। यह फोन पॉवर यूजर्स के काम का है जो फोन पर ही काफी टास्क परफॉर्म करना चाहते हैं या करते हैं।

यह भी पढ़ें:

Flipkart Diwali Sale: iPhone से Vivo तक इन स्मार्टफोन्स पर मिल रहा 17000 रुपये तक का ऑफर

Nubia Red Magic गेमिंग स्मार्टफोन दिवाली के बाद भारत में होगा लॉन्च, जानें डिटेल्स

OnePlus 6T भारत में लॉन्च, फोन में दिए गए हैं ये खास फीचर्स 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sakshi Pandya