मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, टेक डेस्क। Google ने अपने अगले ऑपरेटिंग सिस्टम का नाम किसी डीजर्ट पर नहीं रखते हुए Android 10 रखा है। इसके साथ ही कंपनी ने अपनी पुरानी परंपरा तोड़ दी है। Android 10 जिसे Android Q भी कहा जाता है। इस साल आयोजित Google I/O में कंपनी ने इसके कई फीचर्स के बारे में खुलासा किया था। इस लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम के ये खास फीचर्स इसे Apple iOS 13 को चुनौती देने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम बनाता है। Google के इंजीनियर्स ने इस लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम में सिस्टम वाइड डार्क मोड को जोड़ा है। इसके अलावा इसके जेस्चर नेविगेशन को भी अपग्रेड किया गया है। आइए, जानते हैं इसके इन फीचर्स के बारे में जो इसे एक खास ऑपरेटिंग सिस्टम बनाता है..

डार्क मोड

इस फीचर को Android 10 के पब्लिक बीटा के लिए पहले ही रोल आउट किया गया था। इस साल आयोजित Google I/O में इस फीचर के बारे में बताया गया था। इसमें आपको पूरे डिवाइस में डार्क मोड थीम का एक्सपीरियंस मिलेगा। इसे आप सेटिंग ऐप में जाकर फोन के बैटरी लैब में इनेबल या डिसेबल कर सकते हैं। यूजर्स इस डार्क मोड फीचर्स की डिमांड काफी समय से कर रहे थे।

लोकेशन परमिशन

Android 10 में आप अपनी मर्जी से ऐप को लोकेशन का परमिशन दे सकते हैं। इसमें आप चाहें तो एक बार में एक ऐप को लोकेशन का परमिशन दे सकते हैं या फिर एक साथ सभी ऐप्स को लोकेशन का परमिशन दे सकते हैं। लोकेशन परमिशन को आप सिस्टम सेटिंग्स में जाकर इनेबल या डिसेबल कर सकते हैं। इस फीचर को यूजर की प्राइवेसी का ख्याल रखने के लिए लाया गया है।

फास्ट शेयरिंग फीचर

इस लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम में Airdrop की तरह ही फास्ट शेयरिंग फीचर दिया जा सकता है। इसे बीटा वर्जन में स्पॉट किया जा चुका है। इस फीचर के जरिए आप अपने स्मार्टफोन से काफी तेजी में फाइल ट्रांसफर कर सकते हैं।

बैटरी इंडिकेटर

पुराने Android OS के मुकाबले इसमें एक अलग तरह का बैटरी इंडिकेटर दिया जा सकता है। इसमें आपको फोन को कब चार्ज में लगाना है इसका समय बताएगा।

कलर स्कीम

इस ऑपरेटिंग सिस्टम के यूजर इंटरफेस को बदलाव के साथ पेश किया गया है। इसमें आपको कई तरह के कलर स्कीम देखने को मिल सकते हैं। इसे इसके बीटा वर्जन के डेवलपर ऑप्शन में देखा जा सकता है।

Wi-Fi QR कोड कनेक्शन

इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम में आपको अपने स्मार्टफोन को Wi-Fi से कनेक्ट करने के लिए बार-बार पासवर्ड नहीं दर्ज करना होगा। इस लेटेस्ट ऑपरेटिंग सिस्टम में Wi-Fi QR कोड फीचर दिया जाएगा, जिसे आप स्कैन करके डिवाइस से कनेक्ट हो सकेंगे। QR कोड फीचर की वजह से ये कनेक्शन सिक्योर होगा।

Posted By: Harshit Harsh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप