नई दिल्ली (टेक डेस्क)। यात्रियों और ड्राइवर को एक्सीडेंट से बचाने के लिए ऐप बेस्ड टैक्सी सर्विस प्रोवाइड करने वाली कंपनी उबर ने राइड चेक सिक्योरिटी फीचर लॉन्च किया है। इस फीचर की मदद से ड्राइवर के स्मार्टफोन पर किसी भी तरह के क्रैश के बारे में अलर्ट मिल जाता है। इससे पहले उबर ने कुछ महीने पहले ही सेफ्टी टूलकिट लॉन्च किया था। अब, उबर ने राइड चेक फीचर रोल आउट किया है। यह फीचर स्मार्टफोन के जीपीए एवं अन्य सेंसर की मदद से किसी भी तरह के क्रैश की संभावना होने पर स्मार्टफोन के जरिए ड्राइवर को अलर्ट करता है।

उबर के सीईओ के मुताबिक, 'जैसे ही राइड चेक इनिशिएट होगा यह फीचर ड्राइवर और सवारी को सेफ्टी टूल किट के जरिए अलर्ट करेगा। इसके साथ ही इसमें 911 (अमेरिकी पुलिस सहायता नंबर) पर सहायता लेने का विकल्प आ जाएगा। इसके बाद हमारी सेफ्टी टीम भी यात्री और ड्राइवर के सहायता के लिए फोन कॉल को फॉलो करेंगे।'

उबर ने अप्रैल में सेफ्टी टूल किट इन-ऐप इमरजेंसी बटन को रोल आउट किया है। यह अब भारत, कनाडा और अमेरिकी यूजर्स के लिए उपलब्ध है। इस राइड चेक फीचर के जरिए किसी भी ट्रिप में होने वाली अनियमितता के बारे में भी पता चल सकेगा। उदाहरण के तौर पर अगर सवारी और ड्राइवर को किसी ट्रिप में ज्यादा समय लगता है तो इस फीचर के जरिए ड्राइवर और सवारी के लिए एक नोटिफिकेशन आएगा और पुछा जाएगा, सबकुछ ठीक है? इसके बाद इस ऐप के जरिए ड्राइवर और सवारी यह बता सकते हैं कि सबकुछ ठीक है। अगर, किसी भी तरह की दिक्कत होती है तो ड्राइवर या सवारी इमरजेंसी बटन पर क्लिक करके रिपोर्ट कर सकते हैं। उबर अपने तकनीक को और विकसित करने पर जोर दे रहा है।

जल्द शुरू होगा वॉयस-एक्टिवेटेड कमांड

उबर जल्द ही वॉयस-एक्टिवेटेड कमांड को ड्राइवर्स के लिए जारी कर सकता है। इस कमांड के जरिए ड्राइवर के क्म्युनिकेट किया जा सकेगा। किसी भी ट्रिप के शुरू होने के लिए इस ऐप के जरिए सवारी से कम्युनिकेट किया जा सकेगा। 

यह भी पढ़ें:

Xiaomi Redmi 6 Pro इन दो स्मार्टफोन से किन मायनों में है बेहतर, जानें 

Xiaomi Redmi 6A vs Redmi 6 vs Redmi 6 Pro: बजट रेंज में कौन है बेहतर

Jio, Airtel और Vodafone के 300 रुपये से नीचे इन प्लान्स में मिलता है फ्री डाटा और कॉल्स

Posted By: Harshit Harsh