नई दिल्ली (टेक डेस्क)। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने हाल ही में यूजर्स को AnyDesk नाम की ऐप को लेकर चेतावनी जारी की थी। अगर यूजर्स इस ऐप को डाउनलोड करते हैं तो उनका बैंक अकाउंट हैक हो सकता है। RBI के बाद अब UPI ऑपरेटर NCPI ने भी इसके लिए चेतावनी और गाइडलाइन्स जारी कर दी हैं। NCPI ने यह बताया है कि किस तरह से AnyDesk यूजर को फ्रॉड के घेरे में लाता है। इसके अलावा NCPI ने कुछ ऐसे तरीके भी बताए जिससे सुरक्षित ऑनलाइन ट्रांजेक्शन की जा सकती हैं।

NPCI का क्या है कहना:

NPCI के हेड ऑफ रिस्क मैनेजमेंट भारत पांचाल ने कहा, “इस तरह की हैकिंग को रोकने के लिए यूजर एजुकेशन बेहतर तरीका है। NPCI लगातार इस तरह के अटैक्स से यूजर्स को बचाने की कोशिश कर रही है। इसके लिए NPCI अपने प्रोडक्टस की सुरक्षा और सर्विसेज को बढ़ाने की दिशा में काम कर रही है। सभी बैंकों और फिनटेक कंपनियों समेत पूरी इकोसिस्टम को यूजर्स को जागरुक करना चाहिए। यूजर्स को यह बताने की जरुरत है कि वो अपनी बैंक अकाउंट डिटेल्स, कार्ड डिटेल्स, OTP/PIN और मोबाइल हैंडसेट का एक्सेस न दें।”

भारत पांचाल ने यह भी बताया कि UPI प्लेटफॉर्म पूरी तरह से सुरक्षित है और 2FA इनेबल्ड है। इसके अलावा यह भी कहा कि NPCI ने न्यूजपेपर और रेडियो के जरिए कंज्यूमर सेफ्टी और अवेयरनेस प्रोग्राम की शुरुआत की है।

RBI ने भी जारी की थी चेतावनी:

सबसे पहले आपको ये बता दें कि AnyDesk एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो यूजर के मोबाइल या लैपटॉप के जरिए बैंक अकाउंट से लेनदेन कर सकता है। RBI ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि अगर यूजर इस ऐप को डाउनलोड करते हैं तो उनका अपनी डिवाइस पर कोई कंट्रोल नहीं रहता है। हैकर्स दुनिया के किसी भी कोने से यूजर की डिवाइस को रिमोटली एक्सेस कर सकते हैं। साथ ही आपके बैंक अकाउंट से पैसा भी चुरा सकते हैं। RBI ने चेतावनी जारी कर लोगों को जागरुक करने की कोशिश की है।

यहां क्लिक कर जानें कैसे काम करती है Anydesk

यह भी पढ़ें:

TRAI का नया DTH नियम: Tata Sky से लेकर Airtel Digital TV तक, ये हैं बेस्ट प्लान

BSNL ने Airtel, Jio की टक्कर में 98 रुपये वाले प्लान को किया रिवाइज, प्रतिदिन मिलेगा 2GB डाटा

Jio GigaFiber इफेक्ट: Airtel ब्रॉडबैंड यूजर्स को मिलेगा 1000 जीबी बोनस इंटरनेट डाटा   

Posted By: Shilpa Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप