नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Happy Navratri 2020 Do's & Don'ts: हिन्दु धर्म में साल में चार नवरात्रि मनाई जाती हैं। इसमें पहली नवरात्रि माघ में मनाई जाती है, जिसे गुप्त नवरात्रि कहा जाता है। दूसरी नवरात्रि चैत्र में मनाई जाती है, जिसे चैत्र नवरात्रि कहा जाता है। तीसरी नवरात्रि आषाढ़ में मनाई जाती है, जिसे गुप्त नवरात्रि कहा जाता है। जबकि चौथी और अंतिम नवरात्रि अश्विन माह में मनाई जाती है, जिसे शारदीय नवरात्रि कहा जाता है। इस साल चैत्र नवरात्रि 25 मार्च से 3 अप्रैल तक मनाई जा रही है। इन नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा-आराधना की जाती है। धार्मिक मान्यता है कि जो व्यक्ति मां दुर्गा की पूजा आराधना सच्ची श्रद्धा और निष्ठा से करता है। उसे मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। 

नवरात्रि में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा करने की परंपरा त्रेता काल से शुरू हुई है। जब मर्यादा पुरषोत्तम भगवान श्रीराम ने लंका विजय के लिए शारदीय नवरात्रि में मां की पूजा आराधना की। इसके बाद विजयदशमी के दिन उन्हें विजय प्राप्त हुई। उस समय से नवरात्रि मनाने का विधान है। इस दौरान व्रत रखने वाले लोगों को कई चीज़ों का विशेष ख्याल रखना चाहिए। इन नियमों का पालन करने के बाद ही पूजा आराधना पूर्ण रूप से सफल होती है। आइए जानते हैं कि चैत्र नवरात्रि में क्या करें और क्या न करें। 

चैत्र नवरात्रि में क्या करें 

- कलश स्थापना जरूर करें। 

- घटस्थापना के दिन से दशमी तक एक अखंड दीपक जरूर जलाएं। अगर ऐसा करने में असमर्थ हैं तो रोजाना सुबह और शाम में आरती के समय दीपक जलाएं। 

- सुबह शाम मां की पूजा

- आराधना और आरती जरूर करें। जब मां की आरती करें तो घी के दीपक जरूर जलाएं। 

- प्रतिदिन दुर्गा सप्तसती और दुर्गा चालीसा का पाठ जरूर करें। 

- मां के विभिन्न रूपों को प्रतिदिन लाल पुष्प भेंट करें। 

- पूजा के समय लाल वस्त्र धारण करना अति शुभ रहेगा।  

- जथा शक्ति तथा भक्ति का भाव रखते हुए नौ दिनों का उपवास रखें। आप चाहें तो फलाहार उपवास भी रख सकते हैं।

- अष्टमी और नवमी के दिन कन्या पूजन जरूर करें और उनसे आशीर्वाद लें। ऐसा करने से घर में सुख शांति और समृद्धि आती है। 

- नवरात्रि के दिनों में ज़मीन पर सोना चाहिए। भौतिक सुखों से दूर रहें।  

- संभव हो तो नौ दिन नंगे पांव रहें। 

- प्रतिदिन मंदिर जाकर माता के दर्शन जरूर करें। 

- माता का प्रतिदिन श्रृंगार भी रोजाना जरूर करें। 

- ब्रह्मचर्य नियम का पालन करें। 

नवरात्रि के दिनों में क्या न करें 

- तामसी भोजन बिल्कुल न करें। 

- लहसुन और प्याज़ का त्याग करें। 

- काटने वाली कोई धातु का उपयोग न करें। खासकर सुई

- धागा और कैंची जैसी चीज़ का उपयोग बिल्कुल न करें। 

- हेयर कटिंग और शेविंग नहीं कराएं।  

- भौतिक गुणों जैसे निंदा, उपहास करने से बचें।

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस