विघ्नहर्ता, प्रथम पूज्य गणेश जी को हम गणपति, गजानन, बप्पा, गजमुख, लंबोदर जैसे कई नामों से पुकारते हैं और उनकी अराधना करते हैं। बुधवार के दिन गणपति के विशेष पूजा-अर्चना का विधान है। इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। हम सब चतुर्थी के दिन या बुधवार को गणेश पूजा करते हैं लेकिन यह सवाल मन में रहता है कि किस मंत्र का जप करें ताकि गजानन जल्द प्रसन्न हों।

आज हम आपको उन मंत्रों के बारे में बता रहे हैं, जिनका जप करने से विघ्नहर्ता श्री गणेश जल्द प्रसन्न होते हैं और भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करते हैं।

1. ॐ श्री गणेशाय नम:।

2. ॐ गं गणपतये नम:।

3. ॐ वक्रतुण्डाय नम:। 

4. ॐ हीं श्रीं क्लीं गौं ग: श्रीन्महागणधिपतये नम:।

5. ॐ विघ्नेश्वराय नम:।

6. गजाननं भूतगणादि सेवितं, कपित्थ जम्बूफलसार भक्षितम्।

उमासुतं शोक विनाशकारणं, नमामि विघ्नेश्वर पादपंकजम्।

बुधवार विशेष: गणेश जी को 21 दूर्वा अर्पित करने का है बड़ा महत्व, मिलती है विशेष कृपा

बुधवार को गणपति की आराधना में खास होते हैं ये 5 मंत्र, इस तरह करें पूजन

7. ॐ सुमुखाय नम:।

8. वक्रतुण्ड महाकाय, सुर्यकोटि समप्रभ:।

निर्विघ्नम् कुरु मे देव, सर्वकार्येषु सर्वदा।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: kartikey.tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप