जयपुर, [जागरण संवाददाता] । राष्ट्रपति चुनाव में यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार ने मंगलवार को जयपुर में कांग्रेसी विधायकों के साथ ही दो निर्दलिय विधायकों से मुलाकात की। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में मीरा कुमार ने कहा कि देश में पहली बार हो रहा है कि राष्ट्रपति चुनाव दो विचारधाराओं के बीच लड़ा जा रहा है,अब तक राष्ट्रपति चुनाव दो व्यक्तियों के बीच लड़ा जाता था। दो विचारधाराओं के बीच मुकाबले के कारण ही मुझे 17 विपक्षी दलों ने उम्मीदवार बनाया है।

उन्होंने कहा कि अब ऐसे लोग शासन कर रहे,जिनमें सहिष्णुता नहीं है। हम जिस धर्म का मानते है उसका सम्मान करते है,लेकिन दूसरे धर्म का भी सम्मान करते है,ये हमारी सोच है। देश में अब गलत व्यवस्था और सोच को बढ़ावा दिया जा रहा है,इसलिए यह जरूरी हो गया कि राष्ट्रपति पद के चुनाव में विचारधारा को लेकर मजबूती से खड़े हो जाएं। मीरा कुमार ने सभी सांसदों और विधायकों से अंतर आत्मा की आवाज पर मतदान करने की अपील करते हुए कहा कि मैने सभी को पत्र लिखकर कहा है कि अनी अंतर आत्मा की आवाज पर चलें और देश के भविष्य के हित में मत दें।

उन्होंने कहा कि जातिवाद की बातों से अब हमें छुटकारा पा लेना चाहिए। मीरा कुमार ने कहा,मेरा जन्म बिहार में हुआ है,लेकिन पूरा देश मेरा घर है। मीरा कुमार की जयपुर यात्रा के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत,कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट भी मौजूद थे।

 यह भी पढें: राजस्थान में दो माह में 8 किसानों ने की आत्महत्या

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस