जागरण संवाददाता, लुधियाना। पंजाब सरकार ने फिर अनाज ढुलाई मामले, स्ट्रीट लाइट घोटाला और इंप्रूवमेंट ट्रस्ट स्कैम के अधिकारी को बदल दिया है। सरकार ने सीनियर अधिकारी सूबा सिंह को विजिलेंस के ईओडब्ल्यू विंग का नया एसएसपी लगाया है। पहले यह मामले विजिलेंस रेंज के एसएसपी रविंदरपाल सिंह देख रहे थे। इंप्रूवमेंट ट्रस्ट मामले की जांच पूरी होने को है और इसका चालान पेश करने का समय नजदीक आ चुका है।

जुलाई में हुआ था ईओडब्लयू विंग एसएसपी का तबादला

पंजाब सरकार ने इंप्रूवमेंट ट्रस्ट मामले की शुरुआत में जांच कर रहे आईपीएस अधिकारी सुरिंदर लांबा का तबादला कर उन्हें बार्डर एरिया फिरोजपुर का एसएसपी लगा दिया था। जुलाई में इंप्रूवमेंट ट्रस्ट का मामला दर्ज किया हुआ था और इसके तुरंत बाद उन्हें बदल दिया गया। इसके बाद जांच रविंदरपाल सिंह को सौंपी गई।

उनकी देखरेख में विजिलेंस ने दो और मामले दर्ज किए। पूर्व कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु को गिरफ्तार करने के बाद विजिलेंस इंप्रूवमेंट ट्रस्ट मामले में रमन बाला सुब्रामण्यम को गिरफ्तार नहीं कर पाई है। वहीं स्ट्रीट लाइट घोटाले में संदीप संधू की तलाश की जा रही है।

अनाज ढुलाई मामले में हो चुकी आशु की गिरफ्तारी

विजिलेंस ने लुधियाना की मंडियों में अनाज लिफ्टिंग को लेकर हुए घोटाले के आरोप में पहले ठेकेदार तेलु राम, जगसीर सिंह और फूड सप्लाई अधिकारी प्रदीप भाटिया को नामजद किया था। बाद में पूर्व कैबिनेट मंत्री आशु, डिप्टी डायरेक्टर आर के सिंगला, इंद्रजीत सिंह इंदी, पंकज मीनू मलहोत्रा समेत कई लोगों को नामजद किया। इस मामले में ठेकेदार तेलु राम और आशु की गिरफ्तारी हुई है।

इंप्रूवमेंट ट्रस्ट मामले में मिली है सुब्रामण्यम को राहत

विजिलेंस ने इंप्रूवमेंट ट्रस्ट की ईओ कुलजीत कौर समेत अन्य को एक बूथ की वन टाइम सेटलमेंट की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था। बाद में इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन रमन बाला सुब्रामण्यम समेत अन्य के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज हुआ। आरोप है कि ट्रस्ट द्वारा मनमाने ढंग से अपने चहेतों को प्लाट अलाट किए गए हैं । इसमें रमन बाला सुब्रामण्यम को हाईकोर्ट से राहत मिली हुई है।

60 लाख स्ट्रीट घोटाले में है संदीप संधू की तलाश

विजिलेंस ने इसी माह में दर्ज किए गए सोलर स्ट्रीट लाइट घोटाले में बीडीपीओ तलविंदर सिंह कांग, ब्लाक समिति चेयरमैन लखविंदर सिंह और वीडीओ तेजा सिंह को गिरफ्तार किया है। हाल ही में विजिलेंस ने कांग्रेसी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के ओएसडी रहे संदीप संधू और उसके रिश्तेदार को इस मामले में नामजद किया है। उनकी तलाश की जा रही है।

यह भी पढ़ेंः- Ludhiana Street Light Scam: रिकार्ड में आया था संदीप संधू का नाम, इसी आधार पर मामला दर्ज; BDPO का पत्र वायरल

यह भी पढ़ेंः- Veergatha Project: विभिन्न गतिविधियों में हिस्सा लेकर टैलेंट दिखाएंगे छात्र, गणतंत्र दिवस पर 25 होंगे सम्मानित

Edited By: Deepika

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट