जागरण संवाददाता, लुधियाना। Honey Trap: भारत से जुड़ी खुफिया जानकारियां इकट्ठी करने के लिए पाकिस्तानी की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेस इंटेलीजेंस (आइएसआइ) अब भारतीय वाट्सएप नंबरों का भी इस्तेमाल कर रही है। ऐसे ही एक मामले में पाकिस्तानी युवती ने लुधियाना के मलौद के गांव ऊंची दौद के जसविंदर सिंह को हनी ट्रैप में फंसाकर ओटीपी मंगवाकर उसके मोबाइल नंबर से खुद वाट्सएप आपरेट करना शुरू कर दिया। इसकी मदद से उसने सैन्य वाट्सएप ग्रुपों में सेंध लगा दी। वह कई नंबर आपरेट कर रही थी। समय रहते भारतीय वायुसेना को इसकी भनक लग गई। जोधपुर एयरफोर्स इंटेलीजेंस की सूचना के बाद लुधियाना पुलिस ने जसविंदर सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। 

खुद को बठिंडा की जसलीन बराड़ बताती थी पाकिस्तानी आपरेटर

पाकिस्तानी इंटेलीजेंस आपरेटर ने खुद को बठिंडा की रहने वाली जसलीन बराड़ बताकर फेसबुक पर जसविंदर से दोस्ती की और फिर उसे प्रेम जाल में फंसा लिया। इसके बाद सेना में भर्ती और शादी का झांसा देकर उसने अपने मोबाइल पर जसविंदर सिंह का वाट्सएप उससे ओटीपी मंगवाकर एक्टिव करवा लिया। उसने जसविंदर की मदद से 3 अन्य भारतीय मोबाइल नंबरों के वाट्सएप ओटीपी मांगकर अपने मोबाइल पर एक्टिव करवा लिए। इस नंबर के जरिये वह डिफेंस के वाट्सएप ग्रुपों शामिल हो गई। वह सैन्य वाट्सएप ग्रुपों में होने वाली बातचीत की निगरानी कर रही थी। उसने वाट्सएप ग्रुपों में बातचीत के दौरान सेना के 7 अधिकारियों को भी अपना सोर्स बनाने के लिए हनी ट्रैप में फंसाने की कोशिश की। एसीपी पवनजीत ने बताया कि युवक जसविंदर मालेरकोटला में एक फैक्ट्री में काम करता है। पाकिस्तानी युवती सैन्य कर्मियों के वाट्सएप ग्रुप में कैसे शामिल हुई, इसकी जांच चल रही है। 

एयरफोर्स इंटेलीजेंस को ऐसे चला हनी ट्रैप का पता

एयरफोर्स इंटेलीजेंस को वाट्सएप ग्रुप में होने वाली बातचीत का अध्ययन कर रही थी। इस दौरान उन्हें 7 सैन्य कर्मियों और पीआइओ के बीच संपर्क के बारे में पता चला। इंटेलीजेंस को यह भी पता चला कि पाकिस्तानी युवती ने जसविंदर सिंह के आइसीआइसीआइ बैंक के खाते में फोन पे ऐप के जरिये दस हजार रुपये जमा करवाए थे। युवती के कहने पर उसने यह रुपये महाराष्ट्र के पुणो स्थित एसबीआइ की ब्रांच के खाते में ट्रांसफर कर दिए। पुलिस उस खाताधारक की भी तलाश है। दोनों के बीच बातचीत का आडियो भी हाथ लगा है।

युवती ने ऐसे एक्टिव किया वाट्सएप

पाकिस्तानी युवती ने अपने मोबाइल पर वाट्सएप डाउनलोड कर जसविंदर का मोबाइल नंबर लिखा। इसके बाद उसके मोबाइल पर आया ओटीपी पूछ अपने मोबाइल पर वाट्सएप एक्टिव कर लिया। 

यह भी पढ़ें - अपहृत युवती की तलाश में जालंधर पुलिस ने यूपी के कन्नौज में मारा छापा, जोड़े को ले आई साथ

Edited By: Pankaj Dwivedi