जागरण संवाददाता, खन्ना : शिव सेना पंजाब के प्रदेश प्रधान अवतार मौर्या ने तहसील और पटवार खाने में बार-बार मुलाजिमों की हो रही हड़ताल पर सख्त एतराज जताया है। उन्होंने कहा कि हड़ताल उनकी समझ से परे है। कोई न कोई विभाग हड़ताल पर रहता है। इससे आम लोगों को तहसील के कामों में भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। मौर्या के अनुसार इनकी कौन सी ऐसी मांगे हैं जो पूरी नहीं हो रही। हड़ताल के दौरान उन्हें किस बात का वेतन मिलता है। मौर्या ने कहा कि परेशानी के चलते कितने ही लोगों का नुक्सान हो रहा है। अष्टाम फरोशों से लेकर रजिस्ट्री लिखने वालों जैसे इस विभाग से जुड़े लोगों का घर का गुजारा कैसे चलेगा। मुलाजिमों को तो वेतन मिल रहा है, लेकिन उनसे जुड़े लोगों को मंदी में समय गुजारना पड़ता है। अगर मुलाजिमों को नौकरी से कोई परेशानी है तो वे उसे छोड़ क्यों नहीं देते ? उनके स्थान पर सरकार बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी दे। इन मुलाजिमों की वजह से ही सरकारें निजीकरण को बढ़ावा दे रही है। सरकार को इन बातों पर ध्यान देना चाहिए।

Edited By: Jagran