जागरण संवाददाता, जगराओं (लुधियाना)। एनसीसी एक अत्याधिक प्रतिष्ठित निकाय है जोकि रक्षा की दूसरी पंक्ति भी है। देश में जरूरत पड़ने पर कई युवाओं को रक्षा के अनुरूप प्रशिक्षत किया जाता है। अगर युवा छात्र इसे अपना करियर विकल्प बनाना चाहते है, तो एनसीसी कैडेट होने के नाते बहुत अधिक वजन होता है। चूकिं वे सीधे रक्षा मंत्रालय से जुड़े हुए है। हमें यह घोषणा व सूचित करते हुए गर्व हो रहा है।

यह भी पढ़ें-पंजाब के किसानाें के लिए मिसाल बना लुधियाना का गांव बसियां, पीएयू की विधि से यूरिया के बढ़ते प्रयाेग पर लगाई राेक

 

एनसीसी में शामिल होना चाहते हैं युवा

जीएचजी पब्लिक स्कूल सिधवां खुर्द को एनसीसी जेडब्ल्यू (लड़कियां) के लिए मंजूरी मिल गई है। बच्चों व युवाओं के रूप में कई लोग एनसीसी में शामिल होना चाहते है और देश की सेवा करने की इच्छा रखते है। इससे छात्राें काे करियर बनाने में आसानी हाेती है।

यह भी पढ़ें-Dengue Cases in Ludhiana: डेंगू पर सख्त हुए मंत्री आशु, निगम व सेहत विभाग के अफसरों की लगाई क्लास; फागिंग डबल करने के आदेश

 

8वीं कक्षा की कुल 25 लड़कियों को योग्यता के आधार पर चुना

एनसीसी देश के युवाओं को कर्त्तव्य की भावना के साथ उनके सर्वांगीण विकास के अवसर प्रदान करता है। 8वीं कक्षा की कुल 25 लड़कियों को योग्यता के आधार पर चुना गया है। अब एनसीसी के लिए चुनी गई लड़कियों को देश में होने वाले राष्ट्रीय समारोह स्वतंत्रता दिवस व गणतंत्र दिवस में भाग लेने का अवसर मिलेगा और देश के लिए अपनी सेवा अधीन कैंपों में जाकर बड़ा कुछ नया करने का अवसर मिलेगा। प्रिंसिपल पवन सूद के मार्गदर्शन में छात्र एनसीसी करेंगे। इसके साथ ही शिक्षकों गुरजीत कौर, खुशमीत कौर द्वारा प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रिंसिपल पवन सूद ने छात्रों को भाग लेने के लिए प्रेरित किया है।

 

यह भी पढ़ें-Vegetable Prices in Navratri: लुधियाना में टमाटर और प्याज के दाम डेढ़ गुना बढ़े, 100 रुपये किलाे बिक रही शिमला मिर्

Edited By: Vipin Kumar