जेएनएन, जालंधर/चंडीगढ़। पंजाब में कोरोना से मौत का ग्राफ रोजाना रिकार्ड गति से बढ़ रहा है। गत दिवस पंजाब में रिकार्ड 198 लोगों की मौत हुई। राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 10704 हो गई है। सबसे अधिक 30 मौतें लुधियाना में हुई। वहीं 24 घंटे में संक्रमण के 1470 नए मामले सामने आए हैं।

राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 75800 हो गई है। इनमें से 9376 मरीजों को आक्सीजन और 298 गंभीर मरीजों को वेंटीलेटर सपोर्ट पर रखा गया है। राज्य में पाजिटिविटी की दर 16.13 फीसदी रही। 6894 लोगों ने कोरोना को मात भी दी। सेहत विभाग की ओर से सोमवार को 69494 लोगों का टीकाकरण किया गया। इनमें से 36651 को वैक्सीन की पहली और 32843 को दूसरी डोज दी गई।

एक बार फिर छह जिलों सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित हुए। लुधियाना में 1470, मोहाली में 1382, पटियाला में 676, बठिंडा में 629, जालंधर में 619 और अमृतसर में 561 नए मरीज मिले। इसके अलावा मुक्तसर में 401, पठानकोट में 396, होशियारपुर में 385 व मानसा में 353 मरीज सामने आए।

वहीं, राज्य का कोई भी जिला ऐसा नहीं रहा जहां सोमवार को कोरोना की वजह से मृत्यु न हुई हो। सर्वाधिक 30 लोगों की मौत लुधियाना में हुई। बठिंडा में 19, संगरूर में 17, मोहाली व पटियाला में 14-14, मुक्तसर में 13, फिरोजपुर में 11, अमृतसर और रूपनगर में 10-10 लोगों ने दम तोड़ दिया।

इसके अलावा होशियारपुर में नौ, जालंधर, पठानकोट व फाजिल्का में आठ-आठ, फरीदकोट में पांच, गुरदासपुर, कपूरथला व मानसा में चार-चार, फतेहगढ़ साहिब व एसबीएस नगर (नवांशहर) में तीन-तीन, बरनाला में दो और तरनतारन व मोगा में एक-एक कोरोना मरीज की मौत हो गई।