जेएनएन/एएनआई, अमृतसर। (Tokyo Olympics 2020, India Lost to Britain 3-4) शुक्रवार सुबह एक ओर जहां भारतीय महिला हॉकी (India Women Hockey Team) टीम ब्रिटेन के खिलाफ ब्रांज मेडल मेडल के लिए भिड़ रही थी, तो दूसरी ओर अमृतसर में स्टार खिलाड़ी गुरजीत कौर के पिता सतनाम सिंह टीवी पर मैच देखने लिए जनरेटर से जूझ रहे थे। दरअसल, मियादी कलां गांव स्थित उनके घर पर वीरवार रात से ही बिजली नहीं थी। मैच सुबह 7 बजे शुरू होना था। बिजली आने की उम्मीद टूटने पर उन्होंने तत्काल जेनरेटर का इंतजाम किया। आनन-फानन में सारे इंतजाम किए गए। ट्रैक्टर चलाकर जेनरेटर स्टार्ट किया। उसके बाद ही परिवार मैच देख सका। 

गांव मियादी कलां में जेनरेटर स्टार्ट करने का इंतजाम करते हुए गुरजीत कौर के पिता सतनाम सिंह।

पिता सतनाम सिंह ने कहा कि पिछली रात से ही उनके यहां बिजली नहीं है। हम जेनरेटर से मैच देख रहे हैं। बाद में भारत की हार पर परिवार को निराशा हुई पर ओलिंपिक में बेटी गुरजीत कौर के शानदार प्रदर्शन पर गर्व जताया।

India Vs Great Britain मैच में गुरजीत कौर ने दागे 2 गोल

शुक्रवार को ब्रिटेन के खिलाफ ब्रांज मेडल मैच में हुई हार पर प्रतिक्रिया देते हुए गुरजीत कौर के भाई गुरचरन सिंह ने कहा कि असल में यह हार नहीं है। हमारे लिए यह गर्व की बात है कि हमारी लड़कियां यहां तक पहुंची हैं।इस मैच में भी गुरजीत कौर ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 2 गोल दागे पर भारत की जीत दिलाने में नाकाम रहीं।

बता दें कि ब्रिटेन के खिलाफ रोमांचक मैच में भारत को 3-4 के करीबी अंतर से हार का सामना करना पड़ा है।  ब्रिटेन की टीम ने भारत से बेहतर प्रदर्शन करते हुए ब्रांज मेडल जीत लिया जबकि भारतीय महिला हॉकी टीम को चौथे स्थान से संतोष करना पड़ा।  

यह भी पढ़ें - Tokyo Olympics 2020 : दो गोल करने वाली गुरजीत कौर की दादी बोली- हारने का दुख नहीं, पोती पर गर्व

Edited By: Pankaj Dwivedi