जेएनएन, जालंधर। बस्ती शेख के तेज मोहन नगर में विवाहिता शमां की हत्या के मामले में पुलिस ने ट्रेस कर हत्यारोपी पति तेज मोहन नगर निवासी नरिंदर चौहान उर्फ हैप्पी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस जांच में कत्ल के पीछे सनसनीखेज खुलासा हुआ। मरने वाली शमां महिला नहीं बल्कि किन्नर थी। पति को उसके किन्नर होने का पता 11 साल पहले सुहागरात के दिन चला था, इसके बाद उसने उसे छोड़ दिया। 11 साल बाद उसने पत्नी की हत्या कर दी।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए डीसीपी गुरमीत सिंह ने बताया कि 2 मई को तेजमोहन नगर में महिला की हत्या की सूचना मिली थी। मौके पर जाकर देखा तो महिला का गला चुन्नी से घोंटकर उसके गले पर चाकू से भी वार किया गया था। मृतका शमां की मां ने उसके पति नरिंदर पर हत्या करने का आरोप लगाया था। शमां की माता शहीद बाबू लाभ सिंह नगर निवासी भोली पत्नी जागीर ने बताया कि उनकी बेटी की शादी 11 साल पहले नरिंदर के साथ हुई थी।

शादी के दो दिन बाद ही उनकी बेटी को नरिंदर ने घर से निकाल दिया जिसके बाद वो उनके पास आकर रहने लगी थी। घर चलाने के लिए शमां ने आरकेस्ट्रा में काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ दिन पहले नरिंदर का फोन शमां को आया और वो उसे अपने साथ रहने के लिए कहने लगा। उस वक्त शमां ने मना कर दिया। दो दिन बाद फिर से नरिंदर का फोन आया और उनकी बेटी अपनी एक्टिवा पर उससे मिलने चली गई। इसके बाद से उनकी बेटी का कुछ पता नहीं चला।

अगले दिन नरिंदर का भाई छिंदा उनको मिला तो पता चला कि नरिंदर तेज मोहन नगर में किराये के मकान में रह रहा है। वह मौके पर पहुंचे तो देखा कि कमरे को ताला लगा है लेकिन अंदर से बदबू आ रही है। इसी बीच छिंदा मौके से फरार हो गया। भोली ने बताया कि जब दरवाजा तोड़ा तो उनकी बेटी का शव पड़ा था। गले में चुन्नी लिपटी थी और चाकू भी लगा हुआ था। उस वक्त पुलिस ने नरिंदर और सुदेश कुमारी पर मामला दर्ज कर लिया था।

डीसीपी गुरमीत सिंह ने बताया कि एडीसीपी सुडरविली और एसीपी कैलाश चंद्र ने जांच की तो पता चला कि मृतका महिला नहीं बल्कि किन्नर है। ऐसे में पुलिस को विश्वास हो गया कि नरिंदर ने ही हत्या की है। बीते दिनों पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि नरिंदर दिल्ली में है तो पुलिस ने वहां पर टीम भेज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

नरिंदर ने पुलिस को बताया कि वो आटो पर गांव-गांव घूम कर कपड़ा बेचने का काम करता था। इस दौरान उसकी मुलाकात शमां से हुई तो उससे प्यार हो गया और शादी भी कर ली। शादी कर वो शमां को घर ले आया लेकिन उसी दिन उसे काम से करतारपुर जाना पड़ गया। अगले दिन जब घर आया तो उसे पता चला कि उसकी पत्नी किन्नर है।

उसने गुस्से में उसे घर से निकाला और खुद दिल्ली चला गया। वहां पर उसकी माता की तबीयत ठीक नहीं रहती थी। वह जालंधर वापस आया तो उसे पता चला कि शमां आरकेस्ट्रा में काम करती है। उसने उसे घर बुला कर काम छोड़ने को कहा, पर वह नहीं मानी। इस दौरान उसकी शमां से हाथापाई हुई। इसके बाद गुस्से में आकर उसने शमां की हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: महिला ने वकील पर लगाया दुष्कर्म का आरोप, गिरफ्तार हुआ तो कोर्ट में मुकर गई

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!