Move to Jagran APP

Hardeep Singh Nijjar: खालिस्तानी समर्थक निज्जर हत्याकांड में नया खुलासा, पंजाब की इस जगह से ताल्लुक रखता है एक आरोपी

Hardeep Singh Nijjar खालिस्‍तानी समर्थक निज्‍जर हत्‍याकांड में नया खुलासा सामने आया है। पकड़े गए तीन आरोपितों में से एक पंजाब के फरीदकोट जिले के कोटकपूरा शहर का निवासी है। यह आरोपित लगभग साढ़े चार वर्ष पूर्व स्टडी वीजा पर कनाडा गया था। जून 2023 में कनाडा के सरी शहर में एक गुरुद्वारा साहिब के निकट गोली मारकर खालिस्तानी समर्थक हरदीप सिंह निज्झर की हत्या कर दी गई थी।

By Jagran News Edited By: Himani Sharma Sat, 04 May 2024 11:45 AM (IST)
पंजाब के कोटकपूरा का निकला एक आरोपी

जागरण संवाददाता, फरीदकोट। पिछले साल कनाडा में मारे गए खालिस्तानी समर्थक हरदीप सिंह निज्‍जर हत्याकांड (Hardeep Singh Nijjar Murder Case) के मामले में कनाडा पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए तीन आरोपितों में से एक पंजाब के फरीदकोट जिले के कोटकपूरा शहर का निवासी है। यह आरोपित लगभग साढ़े चार वर्ष पूर्व स्टडी वीजा पर कनाडा गया था।

2023 में निज्‍जरकी गोली मारकर कर दी गई थी हत्‍या

उल्लेखनीय है कि जून 2023 में कनाडा के सरी शहर में एक गुरुद्वारा साहिब के निकट गोली मारकर खालिस्तानी समर्थक हरदीप सिंह निज्‍जर की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में कनाडा पुलिस द्वारा तीन आरोपितों करनप्रीत सिंह, कमलप्रीत सिंह और करण बराड़ को गिरफ्तार किया गया है। इनमें से एक करण कोट कपूरा शहर का निवासी है। कनाडा पुलिस के अनुसार इन तीनों का संबंध गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के ग्रुप से है।

यह भी पढ़ें: Punjab Accident: मुक्‍तसर में भयानक हादसा, बाइक को तेज रफ्तार कार ने मारी जोरदार टक्‍कर; दो PCR कर्मचारी गंभीर जख्‍मी

करण बराड़ स्‍टडी वीजा पर गया था कनाडा

कोटकपूरा निवासी आरोपित करण बराड़ लगभग साढ़े चार वर्ष पूर्व 12वीं कक्षा की पढ़ाई करने के पश्चात कनाडा के स्टडी वीजा पर वहां गया था। वह अपने माता-पिता का इकलौता पुत्र है। गत 18 अप्रैल को ही उसके पिता मनदीप सिंह बराड़ का हार्ट अटैक के कारण निधन हो गया था। जबकि उसकी माता रमनदीप बराड भी लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व सिंगापुर चली गई थी।

यह भी पढ़ें: Punjab News: मुक्तसर में खुलेआम गुंडागर्दी, बदमाशों ने देर रात लोगों के घरों में फेंके पेट्रोल बम; बाइक में लगाई आग

करण बराड़ अपने पिता की मौत पर यहां भी नहीं आया था। अब उनके घर में यहां उपस्थित उसके दादा बलवीर सिंह बराड़ ने बताया कि यहां पर उनका पौत्र बहुत ही शरीफ और समझदार युवक था। लेकिन वहां जाकर क्या हुआ क्या नहीं इसके बारे में उन्हें कुछ नहीं पता। उन्हें तो इसके बारे में भी आज इंटरनेट मीडिया पर आई खबरों के बाद ही पता चला है। उधर यह खबर सुनकर अपने पति की मौत के कारण यहां आई उसकी माता परेशान हो गई है और उन्हें उपचार के लिए एक निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया।