Move to Jagran APP

Chandigarh Hospital Bomb Threat: 'तुम सब मर जाओगे...', चंडीगढ़ में सरकारी अस्पताल को भेजे गए धमकी भरे ई-मेल में क्या लिखा था?

चंडीगढ़ के सेक्टर 32 के अस्पताल व मेडिकल कॉलेज मैंटल हेल्थ इंस्टीट्यूट (Chandigarh government Hospital Bomb) को बम से उड़ाने की धमकी मिली। जिसके बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में आसपास के इलाकों को खाली करवाया गया और पुलिस की टीम व बम स्क्वॉड ने चप्पा-चप्पा खंगाला परंतु कुछ भी हासिल नहीं हुआ। यह धमकी ई-मेल के जरिए दी गई थी।

By Jagran News Edited By: Prince Sharma Wed, 12 Jun 2024 12:04 PM (IST)
दिल्ली के बाद अब चंडीगढ़ में मेडिकल कॉलेज को मिली बम से उड़ाने की धमकी

जेएनएन, चंडीगढ़। दिल्ली में अस्पताल और स्कूलों में बम की धमकी के बाद अब चंडीगढ़ के सेक्टर-32 के अस्पताल व मेडिकल कॉलेज को बम से उड़ाने की धमकी मिली। जिसके बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया।

आसपास के इलाकों को खाली करवाया गया। मिली जानकारी के अनुसार, यह धमकी ई-मेल के माध्यम से दी गई थी। हालांकि जांच में कुछ भी नहीं मिला है।

धमकी वाले ई-मेल में लिखा गया कि मनोरोग अस्पताल के अंदर बम रखे गए हैं। वे बहुत जल्द विस्फोट करेंगे। तुम सब मर जाओगे। इसके पीछे ग्रुप 'टेरराइजर्स111' का हाथ है।

जीएमसीएच प्रशासन को भेजा मेल

चंडीगढ़ में स्थित गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल चंडीगढ़ के सेक्टर 32 में स्थित है। बम की धमकी जीएमसीएच प्रशासन को मेल द्वारा भेजी गई थी।

सूचना मिलते ही चंडीगढ़ पुलिस, बम स्क्वॉड, क्राइम ब्रांच सहित अन्य कई जांच टीमें जांच में जुट गई। वहीं धमकी मिलते ही अस्पताल के प्रशासनिक व सिक्योरिटी अधिकारियों में हड़कंप मच गया। बम स्क्वॉड की मदद से अस्पताल में चप्पा-चप्पा खंगाला गया। परंतु कोई भी संदिग्ध वस्तु नहीं मिली।

वहीं बम की धमकी को लेकर डीएसपी चंडीगढ़ (दक्षिण) दलबीर सिंह ने कहा कि हमें ई-मेल के जरिए मिली बम की धमकी के बारे में अस्पताल से जानकारी मिली। हमें कुछ नहीं मिला। वरिष्ठ अधिकारियों से अनुमति मिलने के बाद अस्पताल खोला जाएगा।

मानसिक स्वास्थ्य संस्थान की उप चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अपराजिता लुबाना ने कहा कि बम की धमकी ईमेल के माध्यम से मिली थी। जिसके बाद पूरी बिल्डिंग खाली करवाई गई। 

-उप चिकित्सा अधीक्षक, डॉ अपरजिता लुबाना

यह भी पढ़ें- Punjab: दो पुलिसकर्मी नौकरी दिलाने के नाम पर वसूल चुके थे लाखों, सीएम मान की सख्ती से दबोचे गए; पढ़ें पूरा मामला