संवाद सहयोगी, बरनाला

अमेरिका के शिकागो में एक मई को शहीद हुए मजदूरों की याद में शहर के विभिन्न जगहों पर मजदूर दिवस मनाकर शहीदों को याद किया गया। जनतक संगठनों के संयुक्त मोर्चे द्वारा तर्कशील चौक में पीडब्ल्यूडी फील्ड एंड वर्कशाप यूनियन व जल सप्लाई एंड सीवरेज बोर्ड के दफ्तर में लाल झंडा चढ़ाकर शहीदों को श्रद्धांजलि भेंट की गई।

पंजाब सबार्डिनेट सर्विसेज फेडरेशन के प्रांतीय नेता कर्मजीत सिंह बेहला, हरिदर मल्लियां, दर्शन चीमा ने कहा कि आज के दिन शिकागो में ट्रेड यूनियनों के बैनर तले मजदूरों ने अपनी कुर्बानियां देकर दिहाड़ी का समय आठ घंटे निर्धारित करवाया था। इससे पहले मजदूरों से 16 घंटे कार्य लिया जाता था। जेपीएमओ के नेता मलकीत सिंह, पीडब्लयूडी के नेता जगविदरपाल, गुरप्रीत सिंह मान ने कहा कि समय की सरकारें किरत कानूनों में संशोधन कर रही हैं, जिस कारण किरती वर्ग का अस्तित्व संकट में आ गया है। नरिदर कुमार, बेअंत सिंह, अमरीक सिंह, ईशर सिंह ने कहा कि सरकार ने महामारी कोरोना से लड़ने के पुख्ता प्रबंध करने की बजाए मुलाजिम, मजदूर व लोक विरोधी फैसले लेकर धक्के से लागू किए जा रहे हैं। चमकौर सिंह, चरणजीत सिंह, रणजीत सिंह, जसवीर सिंह, बारू सिंह, कमलदीप सिंह, राम सिंह, अंग्रेज सिंह, तेजिदर सिंह, अमनदीप सिंह ने कहा कि सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों को किसी कीमत पर लागू नहीं होने दिया जाएगा।

लाल झंडा भट्ठा मजदूर यूनियन एकटू ने एक दर्जन भट्ठों पर लाल झंडे चढ़ाकर मई दिवस के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस उपरांत रेलवे स्टेशन पर किसानों के संघर्ष में भी भट्ठा मजदूरों ने बड़ी गिनती में शिरकत की। यूनियन के प्रांतीय सचिव कामरेड गुरप्रीत रूड़ेके, जग्गा सिंह, रेश्म सिंह, जंटा सिंह, बिदर सिंह, जीवन सिंह आदि उपस्थित थे।