Move to Jagran APP

World Largest Paratha: रंगला पंजाब में बना दुनिया का सबसे बड़ा पराठा, 37.5 किलो वजन के साथ गिनीज बुक में हुआ दर्ज

पंजाब के रंगला पंजाब मेले में दुनिया के सबसे बड़े पराठे (World Largest Paratha) को बनाया गया। ताज होटल के शेफ द्वारा बनाए गए 37.5 किलोग्राम के पराठे को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया है। इस पराठे को बनाने के लिए 20 बर्नर वाले गैस चूल्हे का इस्तेमाल किया गया है। साथ ही इसे बेलने के लिए 20-22 किलों के दो बेलन का इस्तेमाल किया गया।

By harish sharma Edited By: Deepak Saxena Published: Wed, 28 Feb 2024 09:54 PM (IST)Updated: Wed, 28 Feb 2024 09:54 PM (IST)
World Largest Paratha: रंगला पंजाब में बना दुनिया का सबसे बड़ा पराठा, 37.5 किलो वजन के साथ गिनीज बुक में हुआ दर्ज
रंगला पंजाब में बना दुनिया का सबसे बड़ा पराठा।

जागरण संवाददाता, अमृतसर। पंजाब के पर्यटन एवं संस्कृति विभाग द्वारा आयोजित किए गए पहले रंगला पंजाब मेले के अवसर पर छठे दिन दुनिया का सबसे बड़ा पराठा (World largest paratha) तैयार किया गया। इसे ताज होटल के शेफ द्वारा तैयार किया गया है। इसका कुल वजन 37.5 किलो है। वहीं, दुनिया का सबसे बड़ा पराठा बनाए जाने पर इसका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया है।

loksabha election banner

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होने के बाद डीसी घनश्याम थोरी और पर्यटन विभाग की डायरेक्टर नीरू कत्याल की ओर से इसका सर्टिफिकेट भी दिया गया। वहीं, इस पराठे को मेला देखने आए लोगों के बीच बांटकर खाया गया और लोगों की ओर से भी इसकी खूब तारीफ की गई। इस मौके पर डिप्टी कमिश्नर अमृतसर घनश्याम थोरी ने पूरी टीम को बधाई भी दी और साथ ही कहा कि यह बेहद खुशी की बात है कि सरकार की ओर से अपने विरसे को देश-दुनिया में पहुंचाने के लिए प्रयास किया है और उसके सार्थक नतीजे भी निकल कर आएंगे।

कई दिन की प्रैक्टिस के बाद तैयार हुआ पराठा

होटल के शेफ व अन्य टीम सदस्यों ने बताया कि इस रिकॉर्ड को बनाने की कोशिश से पहले उनकी टीम की ओर से कई दिन तक लगातार इसका अभ्यास किया था। इस रिकॉर्ड को हासिल करने के लिए सात क्विंटल से अधिक आटे का इस्तेमाल किया गया।

ये भी पढ़ें: Amritsar Crime: 'ऑटो वाले अंकल ने किया गलत काम', 10 साल की मासूम ने रोते हुए बताई पिता को पूरी बात, फिर...

ऐसे बनाया गया इतना बड़ा पराठा

खास बात यह भी है कि इस पराठे को बनाने के लिए 510 फीट की तीन-तीन क्विंटल के दो तवों को विशेष तौर पर दिल्ली से तैयार करवाया गया था। जबकि कड़ाही को पकाने के लिए 20 बर्नर वाले गैस-चूल्हे का इस्तेमाल किया गया था। पराठा ताज के आठ रसोइयों ने तैयार किया है। यहीं नहीं इस परांठे को तैयार करने के लिए यहां विशेष तौर पर 22-22 किलो के दो बेलन तैयार करवाए गए थे।

ये भी पढ़ें: Punjab News: पांच साल का कार्यकाल पूरा कर चुकी पंचायतें भंग, सीएम मान बोले- किसी हालत में नहीं रुकेगा गांवों का विकास


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.