Move to Jagran APP

अब फिल्‍म और सीरियल्‍स में नहीं दिखेंगे सिख शादी के सीन, अकालतख्‍त साहिब के जत्‍थेदार बोले- नकली आनंद कारज दिखाना गलत

Punjab News अकालतख्‍त साहिब के जत्‍थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह ने फिल्‍मों और टीवी सीरियल्‍स में नकली आनंद कारज दिखाने पर एतराज जताया है। उन्‍होंने कहा कि ऐसे सीन्‍स गुरुद्वारें में फिल्‍माना गलत है। वहीं इस पर अब एसजीपीसी बड़ा फैसला ले सकती है। सिख समुदाए के लोग भी फिल्‍मों में झूठी सिख शादी दिखाने से गुस्‍से में हैं। उनका मानना है कि इससे गलत संदेश जाता है।

By Himani Sharma Edited By: Himani Sharma Thu, 11 Jul 2024 08:22 AM (IST)
फिल्‍मों में आनंद कारज सीन दिखाने पर सिखों को एतराज (फाइल फोटो)

जागरण संवाददाता, अमृतसर। निकट भविष्य में देशवासी फिल्मों एवं टीवी सीरियलों में आनंद कारज के सीन नहीं देख सकेंगे, ना ही गुरुद्वारा साहिबान के सेट लगाकर ऐसे दृश्यों का फिल्मांकन किया जा सकेगा।

श्री अकालतख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी रघबीर सिंह ने गुरुद्वारा साहिबान के सेट तैयार करके इसमें आनंद कारज के फिल्मांकन पर रोक लगाने की तैयारी कर ली है। यही नहीं, इसे मूर्तरूप देने के लिए पांच तख्तों के सिंह साहिबान की बैठक जत्थेदार रघबीर सिंह की अगुआई में जल्द हो सकती है। इस बैठक में पाबंदी को लेकर सिंह साहिबानों द्वारा सिख पंथ को फरमान जारी किया जा सकता है।

टीवी सीरिल उड़ारियां की शूटिंग से नाराज जत्‍थेदार

मोहाली में पंजाबी टीवी सीरियल ‘उड़ारियां’ की शूटिंग में गुरुद्वारा साहिबान का सेट तैयार करके श्री आनंद कारज के सीन फिल्माने से गुस्साए जत्थेदार रघबीर सिंह ने एसजीपीसी से इस प्रकरण की समस्त रिपोर्ट भी तलब की है। गौर हो कि मोहाली में आठ जुलाई को हो रही शूटिंग का पता चलते ही निहंगों ने मौके पर पहुंचकर शूटिंग रुकवा दी थी।

निहंगों ने कर दिया था हंगामा

निहंगों द्वारा हंगामा करने के बाद पुलिस ने आकर मामले को शांत किया था तथा शूटिंग बंद करवाई थी। जत्थेदार ने कहा कि सिख पंथ द्वारा पहले भी ऐसे नकली विवाहों पर रोक लगाई हुई है लेकिन अब सख्ती से इस पाबंदी को लागू करवाया जाएगा। बकौल जत्थेदार, श्री गुरु ग्रंथ साहिब की उपस्थिति में नकली विवाह व आनंद कारज की शूटिंग को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Archana Makwana: पुलिस के सामने ऑनलाइन पेश हुईं Yoga Girl अर्चना मकवाना, 15 मिनट तक हुई पूछताछ

उन्होंने आगे कहा कि शूटिंग के लिए एक नकली गुरुद्वारा साहिब तैयार किया जाना सिख परंपराओं के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि शूटिंग स्थल घडूआं में गुरुद्वारा साहिब का नकली सेट तैयार करने के अलावा कलाकारों के धूमपान करने की शिकायत भी मिली है। यह असहनीय है।

तख्तों के सिंह साहिबान की जल्द हो सकती है बैठक

जत्थेदार रघबीर सिंह ने इस घटना का गंभीर नोटिस लेते हुए एसजीपीसी से रिपोर्ट तलब की है। अगर श्री आनंद कारज में शामिल होने वाले कलाकार सिख समुदाय से संबंधित होंगे तो उनके खिलाफ श्री अकालतख्त द्वारा सिख मर्यादा व परंपरा के तहत सख्त कार्रवाई भी की जा सकती है। जत्थेदार रघबीर सिंह ने इसे लेकर पांच तख्तों के सिंह साहिबानों की बैठक जल्द बुलाने का संकेत भी दिया है। इस मुद्दे पर सख्त फैसला लिया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: क्या है 'सिख फॉर जस्टिस' संगठन, जिस पर बढ़ा पांच साल के लिए प्रतिबंध; कैसे है ये देश के लिए खतरा?