नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi in Chintan Shivir) ने आज हरियाणा के सूरजकुंड में राज्यों के गृह मंत्रियों के दो दिवसीय चिंतन शिविर में भाग लिया। पीएम ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चिंतन शिविर को संबोधित भी किया। प्रधानमंत्री ने इस दौरान कहा कि कानून व्यवस्था को बनाए रखना एक चौबीसों घंटे चलने वाला कार्य है। लेकिन किसी भी कार्य को बेहतर ढंग से करने के लिए हमे निरंतर प्रक्रियाओं में सुधार करना होगा। पीएम ने कहा कि इसी तहत आंतरिक सुरक्षा के लिए हमें मिलकर काम करना होगा।

पुलिस के लिए वन नेशन, वन यूनिफॉर्म पर हो विचार

पीएम ने इसी के साथ कहा कि सभी राज्यों को पुलिस के लिए "वन नेशन, वन यूनिफॉर्म" लाने के लिए विचार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया में समय लग सकता है, हो सकता है कि इसमें 5, 50 या 100 साल लगें, लेकिन हमें इसपर विचार करना चाहिए।

पीएम ने नक्सलवाद का उठाया मुद्दा, राज्यों को दिए कई सुझाव

  • चिंतन शिविर को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने नक्सलवाद का मुद्दा भी उठाया। पीएम ने कहा कि हमें हर प्रकार के नक्सलवाद को पराजित करना होगा। मोदी ने कहा कि नक्सलवाद चाहे बंदूक वाला हो या कलम वाला सभी का काट निकालना पड़ेगा।
  • पीएम ने आगे कहा कि साइबर क्राइम को रोकने के लिए अब हमें नई टकनीकों का उपयोग करना है।
  • गृह मंत्रियों से वार्ता करते हुए पीएम ने कहा कि दूसरे देशों की सीमा से लगने वाले राज्यों को ड्रोन टेक्नोलाजी का उपयोग हथियारों और ड्रग्स तस्करी को रोकने के लिए करना चाहिए।
  • स्मार्ट टेक्नोलाजी की बात करते हुए पीएम ने कहा कि कानून-व्यवस्था को बेहतर करने के लिए भी स्मार्ट व्यवस्था करनी होगी।
  • पीएम ने कहा कि कई बार केंद्रीय एजेंसियों को कई राज्यों में एक साथ जांच करनी पड़ती है, इसके लिए सभी का सहयोग देना आवश्यक है। पीएम ने कहा कि हर राज्य का दायित्व है कि चाहे राज्य की एजेंसी हो या केंद्र की वे पूरा सहयोग दें।
  • फेक न्यूज को देश के लिए खतरा बताते हुए पीएम ने लोगों को सचेत किया। मोदी ने कहा कि किसी भी संदेशों को आगे भेजने से पहले उसका फैक्ट चेक करना जरूरी है। इसमें टेक्नोलाजी की बड़ी भूमिका है।

राज्यों को मिलकर काम करना होगा

पीएम मोदी ने कहा कि गृह मंत्रियों का यह चिंतन शिविर सहकारी संघवाद का सबसे बेहतरीन उदाहरण है। मोदी ने कहा कि देश की बेहतरी के लिए राज्यों को मिलकर काम करना होगा और राज्य इसी के साथ एक दूसरे से अच्छे कार्यों को सीखने और उसे अपने राज्य में करने की प्रेरणा ले सकते हैं। पीएम ने कहा कि यह संविधान की भावना है और यही हमारे नागरिकों के प्रति हमारा कर्तव्य है।

यह भी पढ़ें- Chintan Shivir: 'केंद्रीय जांच एजेंसियों का सहयोग करें राज्य,' चिंतन शिविर में बोले पीएम मोदी

गृह मंत्रियों का चिंतन शिविर : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा - UCC से महिलाओं की स्थिति में होगा सुधार

Edited By: Mahen Khanna

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट