रायपुर,जेएनएन। DKS Hospital Fraud Case: छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में डीकेएस सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में 50 करोड़ की गड़बड़ी के मामले में फंसे पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के दामाद डॉ. पुनीत गुप्ता की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। अब डॉ. गुप्ता के खिलाफ बैंक से फर्जी तरीके से 70 करोड़ रुपये का लोन लेने की एक और शिकायत रायपुर के गोलबाजार थाने में दर्ज की गई है। सामाजिक कार्यकर्ता कुणाल शुक्ला की तहरीर पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

पुलिस को भेजे शिकायती पत्र में कहा गया है- यह लोन डीकेएस अस्पताल के नाम पर पंजाब नेशनल बैंक से लिया गया। इन दस्तावेजों को तैयार करवाकर लोन लेने में तत्कालीन अस्पताल अधीक्षक डॉ. पुनीत गुप्ता की प्रमुख भूमिका रही। इस फर्जीवाड़े में बैंक के कुछ अधिकारी भी शामिल रहे। शुक्ला का कहना है कि पंजाब नेशनल बैंक ने अभी तक इस मामले में कोई शिकायत या एफआइआर दर्ज नहीं करवाई है, लिहाजा उन्होंने बैंक प्रबंधन से अपील की है कि इस मामले पर तत्काल गंभीरता से संज्ञान लेकर डॉ. पुनीत गुप्ता एवं अन्य पर एफआइआर दर्ज कराई जाए।

कल होगी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई
डॉ. पुनीत गुप्ता की अग्रिम जमानत निरस्त करने संबंधी छत्तीसगढ़ पुलिस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में 10 मई को सुनवाई होगी। इस पर सभी की निगाह टिकी हुई है। खबर है कि डॉ. गुप्ता की तरफ से भी सुप्रीम कोर्ट में हस्तक्षेप याचिका भी दायर हो सकती है।

रायपुर के सीएसपी देवचरण पटेल ने कहा 'डॉ. पुनीत गुप्ता के खिलाफ जितनी भी शिकायतें मिली हैं, उनकी जांच चल रही है। जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।'

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस