खेल संवाददाता, नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड द्वारा 2008 में शुरू किया गया टी20 टूर्नामेंट इंडियन प्रीमियर लीग आज दुनिया का सबसे पापुलर लीग बन गया है। पूरी दुनिया के क्रिकेटर इस टूर्नामेंट में खेलने के लिए अपना नाम नीलामी में डालते हैं। आइपीएल के आने के बाद से फुटबाल, हाकी और कबड्डी जैसे खेलों के भी ऐसे ही टूर्नामेंट शुरु किए गए हैं। अब शतरंज में भी ऐसे ही लीग की शुरुआत होने जा रही है।

भारतीय शतरंज संघ (एआइसीएफ) आइपीएल की तर्ज पर इंडियन शतरंज लीग (आइसीएल) कराने जा रहा है। लीग का आयोजन अगले वर्ष जून में होगा, जिसमें छह टीमें शिरकत करेंगी। देश के दो शहरों में आयोजित होने वाली लीग के विजेता को दो करोड़ रुपये दिए जाएंगे। एआइसीएफ लीग के लिए देश और दुनिया के दिग्गज खिलाडि़यों को आमंत्रित करने जा रही है।

Vijay Hazare Trophy: 148 रन की पारी खेलकर भी जीत नहीं दिला पाए कप्तान, नहीं निकला मैच का नतीजा

एआइसीएफ के अध्यक्ष डा. संजय कपूर ने मंगलवार को यहां कहा, 'छह टीमों की घोषणा जल्द की जाएगी। इसके आयोजन का जिम्मा गेम प्लान को दिया गया है। लीग ब्लिट्ज और रैपिड वर्ग में होगी। प्रत्येक टीम में दो सुपर गै्रंड मास्टर (जीएम), दो भारतीय जीएम, दो महिला जीएम, एक-एक भारतीय जूनियर पुरुष, महिला खिलाड़ी होंगे।'

उन्होंने कहा, 'लीग दो सप्ताह तक खेली जाएगी। खास बात यह है कि विश्व विजेता विश्वनाथन आनंद, मैग्नस कार्लसन समेत दुनिया के नामी शतरंज खिलाड़ियों से लीग के लिए संपर्क साधा जाएगा। इसका सीधा प्रसारण भी होगा।' संजय का कहना है कि लीग से भारतीय शतरंज को नई दिशा मिलेगी। ग्रैंड मास्टर विदित गुजराती और महिला जीएम द्रोणावल्ली हरिका भी लीग के आयोजन से उत्साहित हैं।

रोहित शर्मा के चोटिल होने पर विराट कोहली के छुट्टी लेने की खबर आई सामने, भड़के पूर्व कप्तान

 

Edited By: Viplove Kumar