संवाद सूत्र, संबलपुर : संबलपुर फाटक स्थित 128 वर्ष पुराने और ऐतिहासिक संबलपुर रोड़ स्टेशन को हमेशा के लिए बंद किए जाने के रेलवे के निर्णय के विरोध में संबलपुर नागरिक कमेटी के बाद अब बीजद भी विरोध पर उतर आया है। इस स्टेशन को बंद करने के बजाय वैकल्पिक व्यवस्था कर संबलपुर-तालचेर के बीच दोहरीकरण कराए जाने पर जोर देने समेत संबलपुर मंडल रेल प्रबंधक प्रदीप कुमार को मंगलवार को इस आशय का ज्ञापन प्रदान किया गया है।

बीजद छात्र मोर्चा के अध्यक्ष सिद्धांत महांती, बीजद युवा मोर्चा के अध्यक्ष लक्ष्मी प्रसाद महापात्र और प्रांतीय सचिव धर्मराज मरेई के संयोजन में संबलपुर मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के सामने विरोध और प्रतिवाद सभा का आयोजन किया गया। इस सभा में उपस्थित संबलपुर की पूर्व विधायक डॉ.रासेश्वरी पाणिग्राही, रेंगाली के पूर्व विधायक रमेश पटुआ, जिला बीजद अध्यक्ष इंजीनियर सिद्धार्थ दास, पूर्व जिला अध्यक्ष डा. प्रमोद रथ, संबलपुर विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष विजय महांती, प्रदेश सचिव संजय बाबू, विधि प्रकोष्ठ के संयोजक आनंद बडगैयां, जिला आवाहक बसंत मिश्र, मनोज महापात्र, जोनल सचिव देवाशीष परिड़ा, जोनल छात्र अध्यक्ष मिलन होता, उषा प्रधान, शैलेंद्र प्रधान, उत्तम पाणिग्राही, जीवनबिदू कार्यक्रम की संयोजक कविता पुरोहित, महानगर अध्यक्ष प्रफुल्ल दास, सुरुबाबू मेहेर, सैयद शहाबुद्दीन, राजू मेहेर, संयुक्ता मेहेर, सुरेखा साहू, सविता आचार्य, रांगेय सडंगी, संजीव सडंगी, जीतू दास, तपन मेहेर, राजेश पंडा, किशोर पंडा, कालिया कुसुम, राकेश आचार्य, मनीष साहू, सुभाष जेना, मंजू ओराम, दिनेश सेठ समेत कई अन्य उपस्थित रहकर इस ऐतिहासिक स्टेशन को बंद किए जाने के निर्णय को दुर्भाग्यजनक बताने समेत रेलवे से विकल्प व्यवस्था करने की मांग की।

Edited By: Jagran