वाराणसी, जेएनएन। आइआइटी-बीएचयू में कैंपस प्लेसमेंट के तहत इस साल का सबसे उच्चतम पैकेज 64,26,578 रुपये का गया है। बीते दो दिन में कुल 217 छात्रों का फाइनल चयन और 179 को प्री प्लेसमेंट आफर मिला, जिसमें न्यूनतम पैकेज इस साल का  11,50,000 रुपये रहा। दुनियाभर की 30 मल्टी नेशनल कंपनियों के द्वारा लिए इस साक्षात्कार में कुल 1365 छात्रों ने हिस्सा लिया था, जिसमें । इसी के साथ ही पहले चरण का कैंपस प्लेसमेंट भी पूर्ण हो गया और दूसरा चरण बुधवार देर रात से शुरू हुआ।

पहले चरण के साक्षात्कार लेने आईं कंपनियों में एप डायनमिक्स, अल्फोंसो, कोडनेशन, फ्लिपकार्ट एपीएम, माइक्रोसाफ्ट, जैगुआर, सिस्को, गोल्डमैन सैश, बजाज, क्वालकम, एप्लाइड मैटेरियल, कानफ्लुऐंट, टेक्सास इंस्ट्रूमेंट, माइंडटिकल, न्यूडिया,  ओरेकल, जेपीएमसी, वेल्स फार्गो, इराज क्वांट, मास्टर कार्ड, इंस्टाबेस, केएलए एप्स, एप्पल, कोहेसिटी, वीमाक, फोनपे, जीटी, गूगल, स्प्रिंकलर, उबर, थाट्स्पाट, ट्रेसेबल एआई, अमेजन, सिटी, क्लूमियो, डीग्राफ, ड्रीम 11, एक्सेल, फ्ल्पिकार्ट एसडीई, फैक्टल एनालिटिक्स, हार्नेस एआई, इराज एसडीई, जगुआर एसडीई, जेपीएमसी एसडीई, केएलए टेनकोर, एमटीएक्स, आप्टम बीडीए, एसएपी लैब, स्प्रिंकलर पीए, एसआरआईबी रेस, वेस्टर्न डिजिटल आदि शामिल रहीं। वहीं दूसरे चरण में सेपिंयट, जियो प्लेटफार्म, ऐटफोल्ड.एआई, सर्विस नाउ, पेटीएम, सिटरिक्स, उड़ान, साकजेन, वीएम वेयर, ऐजवर्व, इंवेस्टनेट याड्ली, बीएनवाई, मिंत्रा, एसआरआईबी, केएलए वालमार्ट, बिडगिली, फार आई, एवालारा, डच बैंक, जीई जीआरसी, राजोप्रे, छलो, कामप्राइज, पेयपल, अमरीकन एक्सप्रेस, सीमेंस हेल्दिनियर्स, रूपीक, सिग्नलचिप, फ्लिपकार्ट, पोस्टमैन, एसआरएफ, जियो मैनेजर, डिलोट, ओयो, फिसर्व, जंगली गेम्स, आईसीआईसीआई, एक्सट्रिया, आदि कंपनियां साक्षात्कार ले रहीं हैं।

राजपुताना में जुटे 18 छात्र दे रहे हैं प्लेसमेंट प्रक्रिया को अंजाम

राजपुताना छात्रावास में आइआइटी-बीएचयू के प्लेसमेंट की पूरी कंट्रोङ्क्षलग  संस्थान के ही 18 छात्रों व कुछ सहायक अधिकारियों ने  संभाल रखी है। ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेल के प्रमुख के मार्गदर्शन में बीटेक के ये छात्र एक बड़े हाल में चौबीसों घंटे कंप्यूटर पर प्लेसमेंट की प्रक्रिया को बड़ी साफगोई के साथ संचालित कर रहे हैं। अमूमन, टीसीएस व इंफोसिस जैसी बड़ी कंपनियां ही इस तरह के कार्य करने का जिम्मा उठा पाती हैं, जिसमें संस्थान के करोड़ो रुपये दांव पर लगते हैं। मगर काफी हद तक इन छात्रों को इस आनलाइन प्लेसमेंट को सफलतापूर्वक पूरा कराने का श्रेय जाता है। बीटेक के छात्र पर्व जैन  ने बताया कि दो-से तीन घंटे केवल आराम करने को समय मिल रहा, बाकी समय इसी आनलाइन प्लेसमेंट में दिन-रात जुटे हैं। इन छात्रों ने बातचीत में बताया कि नाश्ता से लेकर भोजन तक की व्यवस्था हास्टल में की गई है, इस समय उनका बाहर की दुनिया से पे पूरी तरह से कट चुके हैं और करीब दस दिन तक ऐसे ही चलता रहेगा। इस दौरान सहायक अधिकारियों में शामिल अमिताभ वर्मा ने बताया कि इस बार कोरोना के बावजूद पिछले साल से ज्यादा आफर मिले हैं। उन्होंने यह भी बताया कि इस बार ड्रीम-11 जैसी कंपनियों में पांच छात्रों का चयन हुआ है, जिससे साबित होता है कि आइआइटी के छात्रों में अब नई कंपनियां भी अपने रूझान दिखा रहीं हैं।

प्लेसमेंट की जिम्मेदारी संभालने वालों में ट्रेङ्क्षनग एंड प्लेसमेंट सेल के कर्मचारी घनश्याम गुप्ता, मोहित श्रीवास्तव और छात्रों का नेतृत्व कर रहे प्रशांत पांडे, यश नंदा, आशीष चौधरी और शोभा ज्याति शामिल रहें।

अन्य प्रमुख कंपनियों की स्थिति

उबर ने 35 लाख, गूगल ने 31 लाख का आकर्षक आफर दिया, जबकि माइक्रोसाफ्ट ने सबसे ज्यादा 26 छात्रों का चयन नौकरी के लिए व 16 को इंटर्नशिप का मौका दिया है। वहीं गूगल में कुल आठ को जाब व आठ को इंटर्नशिप का अवसर मिला।

 

Edited By: saurabh chakravarti