Move to Jagran APP

Weather Update: मौसम ने फिर बदला मिजाज, हिमपात से गिरा तापमान; IMD ने कई राज्यों के लिए जारी किया भारी बारिश का अलर्ट

उत्तर भारत में गर्मी बढ़ रही है। मगर पहाड़ों में हिमपात होने से हल्की ठंड बनी हुई है तो मैदानी क्षेत्रों में वर्षा के कारण कई जगह फसलों को नुकसान पहुंचा है। जम्मू-कश्मीर के विभिन्न क्षेत्रों में तड़के से ही झमाझम वर्षा हुई जबकि घाटी के ऊपरी क्षेत्रों में हल्की बर्फबारी भी हुई तो कहीं दिन में तेज हवा के साथ ओले भी गिरे।

By Jagran News Edited By: Sonu Gupta Published: Sat, 20 Apr 2024 06:00 AM (IST)Updated: Sat, 20 Apr 2024 06:00 AM (IST)
हिमपात से फिर गिरा तापमान, मैदान में वर्षा से खेती प्रभावित।

जागरण टीम, नई दिल्ली। उत्तर भारत में गर्मी बढ़ रही है। मगर पहाड़ों में हिमपात होने से हल्की ठंड बनी हुई है तो मैदानी क्षेत्रों में वर्षा के कारण कई जगह फसलों को नुकसान पहुंचा है। जम्मू-कश्मीर के विभिन्न क्षेत्रों में तड़के से ही झमाझम वर्षा हुई, जबकि घाटी के ऊपरी क्षेत्रों में हल्की बर्फबारी भी हुई तो कहीं दिन में तेज हवा के साथ ओले भी गिरे। दिन में कुछ देर धूप खिली तो शाम होते होते फिर वर्षा शुरू हो गई।

हिमाचल में आंधी से हुआ जानमाल का नुकसान

हिमाचल में भी दोपहर बाद चली आंधी से जानमाल का नुकसान हुआ है। साथ ही गेहूं की कटाई का कार्य भी बाधित हुआ है। पंजाब में भी वर्षा के कारण गेहूं की पकी फसल खेतों में बिछ गई है। जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर रामबन के गांगरू में भूस्खलन हुआ, जिससे यातायात ठप हो गया। शाम करीब साढ़े पांच बजे मलबा हटाकर यातायात बहाल किया गया।

बारिश से तापमान में गिरावट

ताजा बर्फबारी व बारिश से तापमान में फिर से गिरावट आने से पूरी घाटी फिर से ठंड की चपेट में आ गई है। मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार को भी विभिन्न क्षेत्रों में रुक-रुक कर वर्षा का क्रम जारी रहेगा।

वैष्णो देवी श्रद्धालुओं के लिए चॉपर सेवा बाधित

दूसरी ओर जम्मू और आसपास के क्षेत्रों तड़के से ही वर्षा का सिलसिला शुरू हो गया थो जो रुक-रुक कर दिन भर जारी रहा। भद्रवाह में मौसम वर्षा के साथ ओलावृष्टि भी हुई। वहीं, वैष्णो देवी के श्रद्धालुओं के लिए चॉपर सेवा बाधित रही।

हिमाचल में आंधी ने ली बच्ची की जान, फसलों को नुकसान

हिमाचल में शुक्रवार दोपहर बाद चली आंधी से जानमाल का नुकसान हुआ है। कांगड़ा जिला के जसवां परागपुर क्षेत्र की गंगोट पंचायत के रेही गांव में शाम करीब पांच बजे तीन वर्षीय बच्ची की मौत हो गई। बच्ची आयशाना आंगन में खेल रही थी, तभी आंधी के कारण मकान की छत टूट गई और ग्रिल की चपेट में आ गई।

वहीं, कुल्लू जिला के तहत मनाली के भूतनाथ चौक के पास देवदार का पेड़ गिरने से 10 वाहन क्षतिग्रस्त हो गए और एक भवन को नुकसान पहुंचा है। प्रदेश में कई क्षेत्रों में गेहूं की कटाई चल रही है, यह कार्य बाधित हुआ है। जिन बागवानों ने एंटी हेल नेट (जालियां) नहीं लगाए हैं, उन्हें नुकसान हुआ है।

पंजाब में भी गेहूं को हुआ नुकसान

पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से शुक्रवार को पंजाब के कई जिलों में तेज हवा के साथ वर्षा व ओलावृष्टि हुई। तेज हवा के कारण गेहूं की पकी फसल खेतों में बिछ गई है। कई जिलों में मंडियों में पहुंची गेहूं की फसल भी भीग गई। जालंधर, अमृतसर, पठानकोट, मोगा, फरीदकोट, फिरोजपुर सहित कई जिलों में ओलावृष्टि से गेहूं की फसल को भारी नुकसान हुआ है। मौसम विभाग ने देर रात तक कई जिलों में वर्षा व ओलावृष्टि को लेकर अलर्ट भी जारी किया है।

यह भी पढ़ेंः 'आरक्षण नीति में कभी छेड़छाड़ नहीं करेगी मोदी सरकार', अमित शाह ने संविधान में संशोधन की सभी अटकलों को किया खारिज

यह भी पढ़ेंः Lok Sabha Election 2024: 'अब आटा के लिए तरस रहा आतंक का सप्लायर...', PM Modi ने पाकिस्तान पर किया कटाक्ष


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.