नई दिल्ली, एजेंसी।  दिल्ली एनसीआर सहित देश के कई हिस्सों में अगले 24 घंटे के अंतर बारिश के अासार है। मौसम विभाग के अनुसार उत्तर भारत में सक्रिय हुए एक और पश्चिमी विक्षोभ के चलते शुक्रवार को दिल्ली एनसीआर के मौसम का मिजाज बदलेगा, जिसके कारण बारिश और तेज हवाएं चल सकती हैं। दक्षिण पश्चिम मानसून ने गोवा के बाद शुक्रवार देर रात दक्षिण एवं तटीय महाराष्ट्र के अलग-अलग हिस्सों में दस्तक दे दी। अगले दो दिनों में इसके और आगे बढ़ने की उम्मीद है। मौसम विभाग के मुताबिक, अगले दो दिनों में मानसून बिहार तक पहुंच सकता है।

हालांकि, बंगाल की खाड़ी में गहरा होता कम दबाव का क्षेत्र और पश्चिमी विक्षोभ पर नजर रखना जरूरी है। फिलहाल अगले 48 घंटों में बिहार में हल्की बारिश के आसार जताए गए हैं। इससे पहले मौसम विभाग ने शनिवार-रविवार के लिए मुंबई में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। विभाग ने अगले 48 घंटे में महाराष्ट्र के कुछ अन्य हिस्सों में भी भारी वर्षा होने का पूर्वानुमान जताया।

मौसम विभाग के मुंबई केंद्र के उप महानिदेशक के एस होसलीकर ने कहा कि दक्षिण पश्चिम मानसून महाराष्ट्र पहुंच गया है। यह हरनई (तटीय रत्नागिरि जिले में), सोलापुर (दक्षिण महाराष्ट्र में), रामागुंडम (तेलंगाना) और जगदलपुर (छत्तीसगढ़) के ऊपर से गुजर रहा है।उन्होंने कहा कि अगले 48 घंटों में महाराष्ट्र के कुछ और हिस्सों में इसके आगे बढ़ने संभावना हैं। भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गई है।

24 घंटों में पूर्वोत्तर भारत के इन हिस्सों में बारिश का अनुमान

मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, विदर्भ, मराठवाड़ा, केरल, तटीय कर्नाटक, गंगीय पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में भारी बारिश होने की उम्मीद है। इसके अलावा आंतरिक मानसून पहुंचने से कर्नाटक, कोंकण और गोवा, गुजरात क्षेत्र में तेज हवाओं के साथ बारिश के आसार हैं।

अगले दो दिन में बिहार पहुंच सकता है मानसून

मौसम विभाग के मुताबिक, अगले दो दिनों में मानसून बिहार तक पहुंच सकता है। हालांकि, बंगाल की खाड़ी में गहरा होता लो प्रेशर एरिया और पश्चिमी विक्षोभ पर नजर रखना जरूरी है। फिलहाल अगले 48 घंटों में बिहार में हल्की बारिश के आसार जताए गए हैं।

मानसून ने पकड़ी गति, उत्तर-मध्य भारत में जल्द बारिश के आसार

उत्तर और मध्य भारत में अगले दो दिनों में तेजी से मौसम बदलने का अनुमान है। जम्मू-कश्मीर, मुजफ्फराबाद, झारखंड के कुछ हिस्सों, छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इसके अलावा दक्षिणी राजस्थान, पंजाब, बिहार, पूर्वी मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश के आसार हैं।

महाराष्ट्रः मानसून के आने के बाद झमाझम बारिश

महाराष्ट्र में पहले 10 जून तक मानसून पहुंचने की उम्मीद थी। हालांकि, करीब दो दिन देरी से पहुंचने के बावजूद महाराष्ट्र के ज्यादातर हिस्सों में तेज से बहुत तेज वर्षा दर्ज की गई। परभरनी में 190 मिमी, पालम में 90 मिमी भुम, मनवट और पाथरी में 70 मिमी और लातूर में 60 मिमी तक बारिश दर्ज की गई। बता दें कि मौसम विभाग के मुताबिक 15.6 मिलीमीटर से लेकर 64.4 मिलीमीटर तक की बारिश सामान्य कही जाती है। जबकि इसके ऊपर वर्षा को भारी कहा जाता है।

पश्चिम बंगाल में मानसून का दस्तक

मानसून ने आखिरकार शुक्रवार सुबह बंगाल में दस्तक दे दी। कोलकाता समेत राज्य के विभिन्न जिलों में कालबैसाखी के बाद अब मानसूनी बारिश शुरू हो गई है। अलीपुर मौसम कार्यालय ने मानसून के आगमन की पुष्टि करते हुए बताया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून उत्तर बंगाल के अधिकांश हिस्सों में पहुंच गया है। राजधानी कोलकाता समेत दक्षिण बंगाल के तटवर्ती इलाकों में भी इसका पदार्पण हो चुका है। शुक्रवार को कोलकाता समेत विभिन्न जिलों में अच्छी बारिश हुई।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021