भारत के उत्तर पूर्व में घने जंगलों और पहाड़ों से घिरा राज्य है मेघालय। यहां प्राकृतिक सौन्दर्य देखते ही बनता है। पूरे विश्व में सर्वाधिक वर्षा वाला राज्य होने का कीर्तिमान प्राप्त है मेघालय को। राज्य की राजधानी खुबसूरत शिलांग है। मेघालय पहले असम राज्य का ही हिस्सा था परंतु वर्ष 1972 में इसे अलग राज्य का दर्जा दे दिया गया। राज्य में अधिकतर हिस्सों में जनजाति प्रजाति ही वास करती है। जिनमें खासी और गारो प्रमुख हैं। जनजातीय आबादी कुल जनसंख्या का लगभग 85 प्रतिशत है। आपको बता दें कि मेघालय भारत के उन तीन राज्यों में से एक है जहां ईसाई धर्म के लोगों का बहुमत है। प्राप्त आंकड़ों के अनुसार राज्य की कुल जनसंख्या 21,75,000 है। राज्य में कुल नौ जिले हैं। राज्य में कुल दो लोकसभा और साठ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र है। राज्य के दो लोकसभा क्षेत्रों में एक है तुरा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र। तुरा पश्चिमी गारो हिल्स का जिला मुख्यालय और मेघालय का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। यह शहर तुरा पीक के ठीक नीचे तुरा पहाड़ियों में स्थित है। इस शहर का नाम स्थानीय देवता दुरामा के नाम से निकला है, जिनके लिए माना जाता है कि वे पहाड़ियों में रहते हैं और इस इलाके के लोगों को आशीर्वाद देते हैं। तुरा को एक गलत वर्तनी शब्द माना जाता है जो अंग्रेजों द्वारा इस क्षेत्र पर अधिकार करने पर अपनाया गया था।

तुरा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र पर एक नजर:

मेघालय के दो लोकसभा सीटों में से एक है तुरा। तुरा लोकसभा सीट कुल 24 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों से मिलकर बना है। यहां कुल 5,05,774 लाख वोटर हैं। जिसमें पुरुष वोटर की संख्या 2,54,723 लाख वोटर, महिला वोटर कुल 2,51,051 लाख है। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार तुरा में कुल 58,391 हजार लोगों की आबादी है। पुरुषों की संख्या कुल जनसंख्या का 51 प्रतिशत एवं महिलाओं की 49 प्रतिशत है। तुरा में साक्षरता दर राष्ट्रीय औसत दर पांच प्रतिशत से अधिक सात प्रतिशत है। पुरुष साक्षरता दर सात प्रतिशत और महिला साक्षरता दर 70 प्रतिशत है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस क्षेत्र में महिलाएं पुरुषों से ज्यादा शिक्षित हैं।

वर्ष 2009 तुरा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में भाग लेने वाली राजनीतिक पार्टियों और उनके उम्मीदवारों के नाम कुछ इस प्रकार हैं:

अगथा के.संगमा [राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी]

देबोरा सी.मारक [भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस]

बोस्टन मारक [राष्ट्रीय कांग्रेस(डेमोक्रेटिक)]

अरलेने एन.संगमा [निर्दलीय]

चुनाव परिणामों पर एक नजर:

विजयी उम्मीदवार: अगथा के.संगमा[राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी]

दूसरा स्थान: देबोरा सी.मारक [भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस]

वर्ष 2009 तुरी लोकसभा सीट के लिए प्रत्याशियों के बीच महत्वपूर्ण मुकाबला हुआ। जिसमें एनसीपी के संगमा ने अपने प्रतिद्वंदी कांग्रेस के देबोरा को 17,945 हजार वोटों से मात दी। संगमा को कुल 1,54,496 लाख वोट एवं देबोरा को कुल 1,36,531 लाख वोट मिले। प्राप्त जानकारी के अनुसार कुल 67.66 प्रतिशत वोटिंग दर्ज की गई। कुल 3,42,187 लाख वोट डाले गए। जिसमें पुरुषों की संख्या कुल 1,78,719 लाख, महिलाओं की 1,63,446 लाख एवं डाक द्वारा कुल 22 वोट डाले गए।

वर्ष 2004 तुरा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के परिणामों पर एक नजर:

विजयी उम्मीदवारपुरनों अगिटोक संगमा, [राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी], 1,91,938 लाख वोट

दूसरा स्थानडा. मुकुल संगमा [भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस], 1,19,175 लाख वोट

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप