अजमेर, जेएनएन। देश में त्योहारी सीजन में आतंकवादियों द्वारा खलल डालने और देश के प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर बम धमाके करने की कथित धमकी तथा अयोध्या राममंदिर विवाद पर अदालत के निर्णय के दृष्टिगत अजमेर रेलवे स्टेशन, दरगाह व पुष्कर पर राजकीय एवं रेलवे पुलिस तथा रेलवे सुरक्षा बल मुस्तैद हैं।

राजकीय रेलवे पुलिस तथा रेलवे सुरक्षा बल संयुक्त रूप से स्टेशन पर आने व जाने वाली रेलगाडियों में यात्रा करने वाले यात्रियों तथा उनके सामान की सघन तलाशी कर रही है। इसके अलावा रेलगाडियों के सभी कोच की बारीकी से जांच कर रही है। रेलगाडियों तथा रेलवे स्टेशन पर लावारिस हालत में मिलने वाली वस्तुओं की जानकारी तुरन्त जीआरपी व आरपीएफ पुलिस को देने की अपील यात्रियों व स्टेशन पर काम करने वाले रेलकर्मियों से करती नजर आ रही है।

मेटल डिटेक्टर व डॉग स्कॉयड से जांच

जीआरपी थाना प्रभारी सुशीला विश्नोई ने बताया कि रेलगाडियों में मेटल डिटेक्टर धारी पुलिस कर्मी रेलयात्रियों के सामान की चैकिंग करने में जुटे हैं, इसके अलावा डाॅग स्क्वाॅयड की टीम भी यात्रियों के सामान की जांच करने में जुटी है।

चप्पे चप्पे पर पुलिस

विश्नोई ने बताया कि रेलवे स्टेशन पर चप्पे चप्पे पर आरपीएफ तथा जीआरपी के पुलिस कर्मियों को तैनात किया है, साथ ही उनको निर्देशित किया है कि स्टेशन पर किसी संदिग्ध को देखते ही उनको थाने लाकर उनकी तलाशी लें और उसके नाम व पते की संबंधित पुलिस थाने, जहां का वह रहने वाला खुद को बता रहा है, उसकी तस्दीक करें, उसके बाद ही उसे छोडा अथवा गिरफ्तार किया  जाए। यदि उसके पास किसी प्रकार की संदिग्ध वस्तु पाई जाती है तो उसके अनुरूप कार्यवाही को अमल में लाया जाए। 

जायरीन यात्रियों से अपील

विश्नोई ने रेलगाडियों में यात्रा करने वाले यात्रियों से अपील की है कि वे किसी अपरिचित व्यक्ति के हाथ से खाद्य वस्तु ना लें और ना ही उसका इस्तेमाल करें। विश्नोई ने बताया कि इन दिनों रेलगाडियों में ऐसे लोग सक्रिय हो जाते हैं, जो भोले भाले रेल यात्रियों को बातों में उलझाकर नशीली वस्तु खिला देते हैं और फिर उनके अचेत होने पर उनका सामान व नकदी, जेवरात लेकर चम्पत हो जाते हैं। 

अजमेर दरगाह व पुष्कर में बढ़ाई निगरानी

जिला प्रशासन ने अजमेर ख्वाजा साहब की दरगाह और तीर्थराज पुष्कर में भी निगरानी बढ़ा दी है। यहां भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किया गया है साथ ही सघन जांच व तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। बीती रात पुलिस प्रशासन में दरगाह परिसर में सघन अभियान चलाकर संदिग्ध लोगों की जांच की। इस दौरान दरगाह के दाएं व बाएं स्थित दरवाजे भी बंद किए गए।

यह भी पढ़ें: PMC Bank Scam: नहीं थम रहा मौतों का सिलसिला, एक और खाताधारक की गई जान

यह भी पढ़ें: Ayodhya Case: 06 दिसंबर 1992 का वो दिन, जिसने भारतीय राजनीति का रुख बदल दिया

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप