जयपुर। देश के गृह मंत्री राजनाथ सिंह एक बार फिर पाकिस्तान पर बिफर पड़े। उन्होंने स्पष्ट कहा कि अगर पाकिस्तान आतंकियों की मदद बंद करे तो पाकिस्तान ही नहीं बल्कि पूरे दक्षिणी एशिया के हालात में सुधार आएगा। राजनाथ सिंह ने एक अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी सम्मेलन के उद्घाटन के दौरान ये बातें कहीं।

उन्होंने, स्पष्ट कहा कि पाकिस्तान हमेशा से छद्म युद्ध के लिए आतंकी संगठनों का इस्तेमाल करता रहा है। राजनाथ सिंह ने कहा पाकिस्तान को अपनी इस रणनीति पर गंभीरता से पुनर्विचार करने की जरूरत है। पाकिस्तान को समझना चाहिए कि कोई आतंकवादी संगठन अच्छा या बुरा नहीं होता। उन्होंने यहां तक कह दिया कि पाकिस्तान समय रहते इस मुद्दे पर गंभीरता से विचार नहीं किया तो पाकिस्तान और उसके सहयोगी देशों को बुरे परिणामों का सामना करना पड़ सकता है।

राजनाथ सिंह इस बात पर बार-बार जोर दे रहे थे कि आईएसआई और पाकिस्तानी फौज आतंकी संगठनों का समर्थन करना बंद कर दे तो दक्षिण एशिया में सुरक्षा की स्थिति में काफी सुधार होगा। उन्होंने कहा कि भारत पिछले कई दशकों से सीमा पार आतंकवाद का शिकार रहा है। लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकवादी संगठन भारत की धरती पर आतंकी घटनाओं को अंजाम देते रहे हैं।

राजनाथ सिंह ने वर्तमान दुनिया में आतंकवाद के बदलते चेहरे व आतंकियों के विनाशकारी ढंग से उपलब्ध प्रौद्योगिकी और साइबर स्पेस के उपयोग पर चिंता व्यक्त की है।

पढ़ेंः शाह की कमेटी में राजनाथ समर्थकों का दबदबा

पढ़ेंः मसर्रत की रिहाई पर किस कड़े कदम की बात कर रहे राजनाथ

Edited By: Gunateet Ojha