नई दिल्ली (जेएनएन)। स्वामी विवेकानन्द की जयंती 12 जनवरी को प्रतिवर्ष राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। युवाओं के लिए आज भी सबसे बड़ी प्रेरणा हैं स्वामी विवेकानंद। नए भारत के निर्माण के लिए देश के युवाओं को ललकारते हुए स्वामी ने कहा था, उठो, जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य पूरा ना हो जाए। युवा दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर देशवासियों को शुभकामनाएं दी।

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, मैं स्वामी विवेकानंद को उनकी जयंती पर नमन करता हूं। आज राष्ट्रीय युवा दिवस पर मैं देश के युवाओं की विलक्षण उर्जा और उत्साह को सलाम करता हूं जो वास्तव में नए भारत के निर्माता हैं।

 

स्वामी विवेकानंद की जयंती के शुभ अवसर पर उनकी स्मृति को मैं नमन करता हूं। उस महान विद्वान, संत और राष्ट्र निर्माता के सम्मान में हम आज का दिन 'राष्ट्रीय युवा दिवस' के रूप में मनाते हैं — राष्ट्रपति कोविन्द

स्वामी विवेकानंद जी के विचार व उनकी रचनाएं आने वाले युगों तक देश के युवाओं का मार्गदर्शन कर उन्हें राष्ट्रनिर्माण के लिए प्रेरित करती रहेगी। आज उनकी जयंती के शुभ-अवसर पर उन्हें कोटि-कोटि नमन एवं समस्त युवाओं को "युवा दिवस" की हार्दिक शुभकामनाएं।

यूएन ने घोषित किया था अंतर्राष्ट्रीय युवा वर्ष 

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र संघ ने सन 1984 ई. को उनकी जयंती को 'अन्तरराष्ट्रीय युवा वर्ष' घोषित कर दिया। इसके बाद भारत सरकार ने 1984 से 12 जनवरी यानी स्वामी विवेकानन्द जयन्ती को राष्ट्रीय युवा दिवस घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें : राष्ट्रीय युवा दिवस: बेरोजगार भीड़ बन रही है चुनौती, कहीं करना न पड़े मुश्किलों का सामना

Posted By: Srishti Verma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप