नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। Hot Weather Forecast for 2020 : दिल्ली-एनसीआर के लोगों को इस बार अप्रैल-मई और जून महीने में गर्मी के मौसम में रिकॉर्डतोड़ गर्मी का कहर झेलना पड़ेगा। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (India Meteorological Department) ने पूर्वानुमान जताया है कि इस बार गर्मियों के मौसम में दिल्ली और मुंबई के साथ मैदानी इलाको में तापमान सामान्य से ज्यादा रहेगा।

भीषण सर्दी के बाद अब भीषण गर्मी से होगा सामना

मौसम विभाग से जुड़े वैज्ञानिकों की मानें तो इस बार दिल्ली का तापमान सामान्य से 1.5 डिग्री सेल्सियस ज्यादा रह सकता है। इससे करोड़ों लोगों को लू और भीषण गर्मी का सामना करना पड़ेगा। गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर महीने में रिकॉर्ड तोड़ ठंड का सामना करना पड़ा था। 

कई राज्यों में हो सकती है पानी की किल्लत

मौसम विभाग ने यह भी अनुमान जताया है कि इस बार सामान्य से अधिक गर्मी पड़ने के चलते कई राज्यों के लोगों को पानी की किल्लत का सामना करना पड़ेगा। पिछले कई सालों से महाराष्ट्र समेत कई राज्यों में भीषण गर्मी के दौरान लोगों को पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। इस बार भी ऐसी स्थिति बनने के आसार हैं। गर्मी के चलते शहरी इलाकों में भी लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ेगा।

1.5 डिग्री अधिक रहेगा दिल्ली समेत कई राज्यों में तापमान

मौसम विभाग के मुताबिक, इस बार अप्रैल महीने में ही भीषण गर्मी शुरू हो जाएगी और दिल्ली-एनसीआर के साथ हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में 1 से 1.5 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा रहने तापमान रहने की संभावना है। भीषण गर्मी के चलते लू (Heat Wave) भी ज्यादा कहर बरपाएगी।

12 फरवरी को दिल्ली में टूटा था 8 सालों का रिकॉर्ड

भीषण गर्मी की आहट का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पिछले सप्ताह 12 फरवरी को दिल्ली में अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड टूटा था। इस दिन अधिकतम तापमान 27.5 पहुंच गया था। फरवरी महीने में ही रिकॉर्ड तोड़ गर्मी के चलते मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि इसी महीने दिल्ली और मुंबई समेत कई शहरों का तापमान औसत से ज्यादा रह सकता है और तापमान में इजाफे का सिलसिला मार्च, अप्रैल, मई और जून में भी जारी रह सकता है।

हवाओं ने भी बदला दिल्ली-एनसीआर का मौसम, बढ़ी गर्मी

मौसम विभाग के मुताबिक, हवाओं के रुख में बदलाव के चलते 10 फरवरी के बाद अधिकतम तापमान में इजाफा हुआ है। पिछले एक पखवाड़े के दौरान अधिकतम तापमान में 5 डिग्री सेल्सियस का इजाफा हुआ है।

शुक्रवार को भी हल्की बारिश होने के आसार

उधर, स्काइमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया कि शुक्रवार को भी हल्की बारिश होने के आसार हैं। इसके बाद मौसम साफ हो जाएगा। हालांकि तापमान में आंशिक गिरावट हो सकती है और फिलहाल महसूस हो रही गर्माहट से थोड़ी राहत भी मिल सकती है, लेकिन ठिठुरन भरी ठंड अब दोबारा लौटकर नहीं आएगी। होली तक गर्मी अपना दायरा काफी हद तक फैला लेगी।

सर्दी के लौटने के आसार बेहद कम

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक, होली के बाद तेजी से मौसम में बदलाव आएगा, बीच-बीच में पहाड़ी राज्यों हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बर्फबारी और बारिश से मैदानी इलाके जरूर प्रभावित होंगे, लेकिन सर्दी नहीं लौटेगी।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस