नई दिल्‍ली, जेएनएन। दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की कार पर हमले की खबर है। यह हमला दिल्‍ली के नरेला इलाके में हुआ है। हमले के दौरान केजरीवाल किसी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए नरेला जा रहे थे। आम आदमी पार्टी ने इसके लिए भाजपा कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया है। हालांकि, भाजपा ने इन आरोपों का खंडन किया है।

मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री नरेला विधानसभा क्षेत्र की अनधिकृत कॉलोनियों में विकास कार्य का शुभारंभ करने के लिए जा रहे थे। इसी दौरान केजरीवाल का कथित भाजपा कार्यकर्ताओं ने घेराव कर लिया। घेराव में करीब तीन सौ कार्यकर्ताओं के स्वतंत्र नगर के पास खड़े होने की बात सामने आ रही है, जहां से मुख्यमंत्री का काफिला गुजरना था।

शाम करीब सवा चार बजे जैसे ही केजरीवाल का काफिला स्वतंत्र नगर मोड की तरफ मुड़ा कथित भाजपा कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल हाय-हाय के नारे लगाने शुरू कर दिए। करीब दस मिनट तक मुख्यमंत्री के काफिले को वहीं पर रुकना पड़ा। कथित भाजपा कार्यकर्ता मुख्यमंत्री पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगा रहे थे। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व जिलाध्यक्ष नीलदमन खत्री कर रहे थे। आप की तरफ से मुख्यमंत्री की कार पर पत्थराव किए जाने का भी आरोप लगाया गया है। हालांकि, नीलदमन खत्री ने इस बात से साफ इनकार किया है।

आप ने दिल्‍ली पुलिस पर उठाए सवाल
इस बारे में आम आदमी पार्टी ने ट्वीट करते हुए दिल्‍ली पुलिस पर सीएम को सुरक्षा नहीं देने का आरोप लगाया है। आप ने कहा कि जब मुख्‍यमंत्री को ही दिल्‍ली पुलिस सुरक्षा नहीं दे पा रही तो आम जनता को कैसे सुरक्षा देगी? क्‍या यह होता है कि किसी राज्‍य में सीएम पर लगातार हमले होते हैं और पुलिस सुरक्षा देने में नाकाम रहती है। आप ने भाजपा पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार के विकास का जवाब भाजपा लाठी-डंडे से दे रही है।

मिली थी जान से मारने की धमकी
इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जान से मारने की धमकी भी मिली थी। इसमें आरोपी की पहचान विनीज गुलाटी के रूप में हुई है। प्रॉपर्टी विवाद के चलते चाचा को फंसाने के लिए उसने कैलिफोर्निया की एक ट्रैवल एजेंसी से यह फोन किया था। आरोपित इसी एजेंसी में चालक है। स्पेशल सेल ने एजेंसी को ईमेल भेजकर आरोपित को भारत भेजने के लिए कहा है। इस मामले में विदेश मंत्रालय का भी सहयोग लिया जा रहा है।

प्रॉपर्टी में विवाद के कारण किया परेशान
पुलिस के मुताबिक, विनीज गुलाटी 12 साल से कैलिफोर्निया (अमेरिका) में अपनी मां के साथ रहता है। हालांकि, मूलरूप से वह पाकिस्तान के रावलपिंडी का रहने वाला है। कई वर्ष पूर्व उसके पिता दिल्ली आकर बस गए थे। यहां सुभाष नगर में उसके पिता के नाम पर प्रॉपर्टी है। उनकी मृत्यु के बाद चाचा मुकेश गुलाटी उर्फ भोला से मकान में हिस्सेदारी को लेकर उसका झगड़ा चल रहा है, जो कि सुभाष नगर में विकास टेंट हाउस चलाते हैं। 21 जनवरी को भी फोन पर विनीज और भोला के बीच झगड़ा हुआ। इसी बीच उसने भोला को सबक सिखाने की धमकी दी और फोन काट दिया। इसके बाद उसने मुख्यमंत्री केजरीवाल के सिविल लाइंस स्थित आवास के लैंडलाइन पर फोन कर कहा कि सुभाष नगर में विकास टेंट हाउस चलाने वाला भोला नाम का व्यक्ति मुख्यमंत्री पर हमला कर सकता है। इससे अलर्ट हुए सुरक्षाकर्मियों ने कुछ ही देर में भोला को हिरासत में ले लिया।

दिल्ली-एनसीआर की जरूरी खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

Posted By: Prateek Kumar