नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज 'मन की बात' के 93वें एपिसोड को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने चंडीगढ़ हवाई अड्डे का नाम बदलने का ऐलान किया। पीएम मोदी ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि 28 सितंबर को अमृत महोत्सव का विशेष दिन आ रहा है। इस दिन हम भारत मां के वीर सपूत भगत सिंह की जयंती मनाएंगे। हमने एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए यह तय किया है कि चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम अब शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा। इसकी लंबे समय से प्रतीक्षा थी।

चीतों ने हमारा ध्यान आकर्षित किया- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के दौरान हाल ही में नामीबिया से देश में लाए गए चीतों का जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा कि 70 साल के बाद देश में चीतों की वापसी हुई है। पिछले दिनों इन चीतों ने हमारा ध्यान आकर्षित किया है। चीतों के देश में लौटने से देश में खुशी का माहौल है।

पीएम मोदी ने मांगे सुझाव

पीएम मोदी ने कहा कि देश के कोने-कोने से लोगों ने चीतों के लौटने पर खुशियां जताई हैं। सभी का सवाल है कि चीतों को देखने का अवसर कब मिलेगा। उन्होंने कहा कि चीतों के लिए एक टास्क फोर्स बनी है, जो इनकी निगरानी कर रही है। जैसे ही ये माहौल में घुल-मिल जाएंगे तो इन्हें देखने का मौका मिलेगा। प्रधानमंत्री ने मन की बात में My Gov ऐप पर चीतों का नाम सुझाने के लिए भी कहा है।

पीएम मोदी ने किया पंडित दीनदयाल उपाध्याय को याद

इसके साथ ही पीएम मोदी ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय को आज याद किया। पीएम मोदी ने कहा कि आज 25 सितंबर को देश के प्रखर मानवतावादी, चिंतक पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्मदिन मनाया जाता है। उनके विचारों की खूबी यही रही है उन्होंने अपने जीवन में विश्व की बड़ी उथल-पुथल को देखा था। वे विचारधाराओं के संघर्षों के साक्षी बने।

पीएम मोदी ने दिया 'वोकल फॉर लोकल' पर जोर

पीएम मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के दौरान कहा कि हमारे त्योहारों के साथ देश का एक नया संकल्प भी जुड़ा है। यह संकल्प 'वोकल फॉर लोकल' का है। आने वाले 2 अक्टूबर को बापू की जयंती के मौके पर इस अभियान को और तेज करने का संकल्प लेना है। खादी, हैंडलूम, हैंडीक्राफ्ट इन सारे प्रोडक्ट के साथ लोकल सामान जरूर खरीदें। यह अभियान इसलिए भी खास है, क्योंकि आजादी के अमृत महोत्सव के दौरान हम आत्मनिर्भर भारत का भी लक्ष्य लेकर चल रहे हैं, जो सही मायने में आजादी के दीवानों को एक सच्ची श्रद्धांजलि होगी। आप से निवेदन है कि खादी, हैंडलूम, हैंडीक्राफ्ट के सारे प्रोडक्ट खरदीने में सारे रिकॉर्ड तोड़ दें।

मन की बात कार्यक्रम में बोले पीएम मोदी

पीएम मोदी ने आगे कहा कि पिछले महीने मैंने मोटे अनाज की बात कही थी और अगले साल अंतरराष्ट्रीय मिलेट साल मनाने की बात कही थी। इसको लेकर लोगों में उत्सुकता है। मुझे कई पत्र मिले जिसमें लोगों ने मिलेट को अपने भोजन का हिस्सा बनाया है। कुछ लोगों ने मिलेट से बनने वाली पारंपरिक व्यंजनों के बारे में बताया है। मुझे लगता है कि हम सबको मिलकर ई-बुक तैयार करनी चाहिए, जिसमें लोग मिलेट से बनने वाले व्यंजनों और अपने अनुभवों को सझा कर सकें। इससे 'अंतरराष्ट्रीय मिलेट साल' से पहले हमारे पास सार्वजनिक इनसाइक्लोपीडिया भी तैयार होगा। जिसे MYGOV पर भी प्रकाशित कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- 28 सितंबर को शहीद भगत सिंह के नाम पर हो जाएगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम, पढ़ें कैसे सुलझा तीन राज्यों का विवादित मामला

यह भी पढ़ें- Mann ki Baat: प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने मेरठ के कबाड़ से जुगाड़ अभियान को सराहा, कहीं ये बातें

Edited By: Mohd Faisal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट