वायनाड, आइएएनस। दुष्कर्म के आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ चले एक प्रदर्शन में शामिल होने वाली नन लुसी कलापुरक्कल ने नया खुलासा किया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि केरल की चर्च में उनके एक फेक वीडियो के आधार पर उनका शोषण किया गया है। बता दें कि फ्रांसिस्कन क्लैरिस्ट कांग्रेगैशन (FCC) की सदस्यस्ता से 11 मई को उनके बर्खास्त कर दिया गया था। जिसके बाद से ये पूरा मामला केरला मे छाया हुआ है।

नन लुसी कलापुरक्कल को पिछले दिनों बनाया गया था बंधक 
एक नन से दुष्कर्म के मामले में आरोपित बिशप फ्रैंको मुलक्कल के विरोध में शामिल हुई नन लुसी कलापुरक्कल को उनके कॉन्वेंट पर अवैध तरीके से बंधक भी बनाया गया था। फिलहाल केरल पुलिस ने इस पूरे मामले में पर केस दर्ज कर लिया है।

क्या है पूरा मामला 
पादरी बिशप फ्रैंको मुलक्कल पर आरोप है कि उन्होंने साल 2014 और 2016 में एक नन से के साथ दुष्कर्म किया था। इस दौरान वह जालंधर में डायोसिस थे। इसके बाद से उनके खिलाफ आंदोलन हुए और इन आंदोलन में एक नन लुसी भी शामिल हुईं थी।

गिरफ्तारी के बाद मिली थी जमानत
इस पूरे मामले पर जब बिशप मुलक्कल पर आरोप तय हो गए थे तो उनकी गिरफ्तारी भी की गई थी. इसके बाद उन्हें कुछ समय बाद जमानत मिल गई थी. इसके बाद से केरला में ये विषय छाया हुआ है.

 दुष्कर्म के आरोपित बिशप के खिलाफ आवाज उठाने वाली नन को बनाया बंधक

 

Posted By: Pooja Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस