Move to Jagran APP

कर्नाटक में टीचर ने पार की क्रूरता की हदें; 9 साल के बच्चे को पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, मां पर भी किया हमला

कर्नाटक के एक सरकार में गेस्ट फैकल्टी ने 9 साल के बच्चे को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। उसने मां को भी पीटा। वारदात को अंजाम देने के बाद शिक्षक फरार हो गया जिसकी तलाश में पुलिस की टीमें लगी हुई हैं।

By AgencyEdited By: Achyut KumarPublished: Mon, 19 Dec 2022 09:10 PM (IST)Updated: Mon, 19 Dec 2022 09:10 PM (IST)
कर्नाटक में टीचर ने छात्र की पीट-पीटकर की हत्या

बेंगलुरु, एजेंसी। कर्नाटक के एक सरकारी स्कूल में गेस्ट फैकल्टी द्वारा लोहे की राड से पीटने के बाद अस्पताल में चौथी कक्षा के एक छात्र की मौत हो गई। पिटाई वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना शनिवार की है। चोटों के कारण दम तोड़ने वाले लड़के की पहचान भरत बराकेरी (Bharat Barakeri) के रूप में हुई है। वह गडग (Gadag) के नरगुंड कस्बे (Nargund town) के पास हदाली गांव (Hadali village) के सरकारी माडल प्राथमिक विद्यालय का नौ वर्षीय छात्र था।

loksabha election banner

आरोपी शिक्षक फरार

आरोपी शिक्षक की पहचान मुट्टू हदाली (Muttu Hadali) के रूप में हुई है। पुलिस ने कहा है कि घटना के बाद से शिक्षक फरार है। उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी। आरोपी ने पूछताछ के लिए लड़के की मां गीता बाराकेरी के साथ भी मारपीट की थी।

यह भी पढ़ें: 'ईसाई बनने पर ही भगवान का मिलेगा आशीर्वाद', 2 लड़कियों ने हिंदू लड़के का धर्म परिवर्तन कराने का किया प्रयास

राड से किया हमला

जब भरत अपने दोस्तों से बात कर रहा था तो आरोपी ने लोहे की पतली राड से उस पर हमला कर दिया। इसके बाद लड़का दौड़कर अपनी मां गीता के पास गया, जो स्कूल में शिक्षिका हैं। गीता ने जब अपने बेटे को बचाने की कोशिश की तो आरोपी ने उस पर भी हमला कर दिया। बच्चा गंभीर रूप से घायल हो गया। उसका खून बहने लगा। बच्चे को अस्पताल ले जाया गया। यहां से उसे हुबली के केआईएमएस अस्पताल में रेफर कर दिया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया है।

शिक्षक की तलाश जारी

नरगंडा पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी शिक्षक की तलाश शुरू कर दी है। शिक्षक किस वजह से गुस्सा था, इसका कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है। जांच जारी है।

ये भी पढ़ें:

कोरोना से ठीक हुए मरीजों में हार्ट अटैक और मौत ज्यादा होने की बात गलतः पटना एम्स की रिसर्च

Fact Check: नई शिक्षा नीति के तहत एमफिल बंद होने की हुई थी बात, 10वीं बोर्ड नहीं हुआ है खत्म


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.