चेन्नई, प्रेट्र। तमिल फिल्म अभिनेता कमल हासन ने जल्लीकट्टू के समर्थन में चल रहे आंदोलन में भाग लेने वाले छात्रों की सराहना की है। अभिनेता ने एक सप्ताह तक चले प्रदर्शन में संयम और अनुशासन बनाए रखने के लिए आंदोलनकारियों की सराहना की।

प्रदर्शन के अंतिम दिन सोमवार को हुई पुलिस कार्रवाई की हासन ने आलोचना की। प्रदर्शन के अंतिम दिन छात्रों को हिंसा का शिकार बनना पड़ा। मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में जल्लीकट्टू के प्रबल समर्थक अभिनेता ने पेटा पर प्रतिबंध लगाने की मांग से असहमति जताई।

छात्रों के प्रदर्शन का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा, 'इस आंदोलन को नेता विहीन कह आप मजाक उड़ा सकते हैं। लेकिन आप संयम देखिए। जब आप पिकनिक पर जाते हैं तो आप खुशी और इच्छा साथ लिए चलते हैं। दफ्तर में आप पैसों के लिए काम करते हैं। घर लौटने के लिए आप घड़ी देखते हैं। लेकिन प्रदर्शन के दौरान कोई घर जाने की तरफ नहीं देख रहा था। आंदोलन की जगह को ही उन्होंने अस्थायी घर बना लिया था। मैं इससे बहुत प्रभावित हुआ।'

जल्लीकट्टू को लेकर चल रहा प्रदर्शन हुआ हिंसक, रजनीकांत की संयम की अपील

Posted By: Manish Negi