नई दिल्ली। बीएसएफ के 49वें स्थापना दिवस पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जवानों की खूब हौसला अफजाई की। बीएसएफ और सेना की तारीफ करते हुए गृहमंत्री ने कहा कि इन दोनों के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। जब भी हमारे राष्ट्रीय स्वाभिमान को कोई खतरा होता है तब ये चट्टान बन कर सामने खड़े हो जाते हैं। इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान को भी निशाने पर लिया और कहा कि पाकिस्तान बार-बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है। लेकिन बीएसएफ के जवानों ने उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया।

दिल्ली में बीएसएफ हेडक्वार्टर पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल गृहमंत्री राजनाथ सिंह बीएसएफ की खूब प्रशंसा की। राजनाथ ने कहा कि बीएसएफ के इतिहास को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता। युद्ध के समय सीमा सुररक्षा बल के जवान हमेशा से ही अगली पंक्ति में खड़े रहते हैं। उन्होंने कहा कि शहीद जवानों का परिचय लिखा जाना चाहिए। जवानों की समस्याओं पर का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मैं जानता हूं आप लोगों के समक्ष बहुत सारी समस्याएं हैं। मैं उन्हें सुलझाने की पूरी कोशिश करूंगा।

अपने संबोधन के दौरान गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को भी निशाने पर लिया और उसे कड़ा संदेश दिया। गृहमंत्री ने कहा कि हमारा ये भारत, हम भारत में रहने वाले लोग, अहिंसा के पुजारी हैं। लेकिन जब कोई हमारे स्वाभिमान पर चोट लगाने की कोशिश करता है तो हमारे ये जवान महाकाल बन कर खड़े हो जाते हैं। उन्होंने कहा पाकिस्तान बार-बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है। बीएसएफ के जवानों ने उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया।

बीएसएफ की स्थापना के 49 वर्ष पूरे होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवानों को बधाई संदेश दिया।

पढ़ेंः पाकिस्तान करा रहा है भारत में आतंकी हमले

पढ़ेंः भारत को इस्लामी राष्ट्र बनाने की साजिश

Edited By: anand raj

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट