नई दिल्‍ली, एजेंसी। इन दिनों मध्‍य भारत मानसूनी वर्षा का हॉट स्‍पॉट बना हुआ है। मौसम विभाग ने पश्चिमी मध्‍य प्रदेश, गुजरात, पूर्वी राजस्‍थान और उत्‍तराखंड के कुछ जगहों पर भारी से ज्‍यादा भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा कोंकण, गोवा, आंतरिक व तटीय कर्नाटक और केरल के इलाकों में भी भारी बारिश का अनुमान जताया है। विभाग ने कहा है कि अरब सागर, पश्चिम मध्‍य बंगाल की खाड़ी और अंडमान के समुद्री इलाकों में 45 से 55 किलोमीटर की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी। इसलिए इन इलाकों में मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है।

समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक, मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में बारिश का दौर जारी है। इससे शिवना नदी (Shivna river) उफान पर है। मंदसौर (Mandsaur) में नदी का पानी पशुपतिनाथ मंदिर (Pashupatinath Temple) में प्रवेश कर गया है। राज्‍य के मालवा-निमाड़ क्षेत्र में भी भारी बारिश हुई। वहीं रतलाम में रात से हो रही तेज बारिश के कारण पटरियों पर पानी भर गया है, जिससे दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग बाधित हो गया। इससे कई ट्रेनें देर से चल रही हैं, जबकि कोचुवेली एक्सप्रेस को रद कर दिया गया है।

निजी वेदर एजेंसी स्‍काईमेट के मुताबिक, मध्‍य प्रदेश के उपर एक चक्रवाती क्षेत्र सक्रिय है, साथ ही मानसूनी ट्रफ भी मध्‍य प्रदेश से होकर गुजर रही है जो मध्‍य प्रदेश में भारी बारिश की वजह बन रही है। उत्‍तरी मध्‍य प्रदेश में छतरपुर, सागर और खजुराहो से लेकर गुना और ग्‍वालियर तक यानी समूचे उत्‍तरी मध्‍य प्रदेश में मूसलाधार बारिश का दौर जारी रहेगा। इससे लोगों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं क्‍योंकि मध्‍य प्रदेश पहले से ही बाढ़ के संकट से जूझ रहा है। इसके अलावा पूर्वी राजस्‍थान, गुजरात के कच्‍छ एवं सौराष्‍ट्र के इलाकों और उत्‍तरी छत्‍तीसगढ़ में भी मध्‍यम से भारी बारिश संभव है।

स्‍काई मेट की ओर से जारी बुलेटिन में कहा गया है कि मध्‍य प्रदेश के बाकी इलाकों, छत्‍तीसगढ़, कोंकण और गोवा में मानसूनी हवाएं चलती रहेंगी जिससे झमाझम बारिश हो सकती है। इसके अलावा मुंबई में भी हल्‍की बारिश के आसार बने हुए हैं। पूर्वी भारत में बारिश की गतिविधियों में धीरे-धीरे कमी आती जाएगी। खासकर बिहार में एक ही दो जगहों पर बारिश हो सकती है। अन्‍य जगहों पर मौसम के शुष्‍क बना रहेगा। हालांकि, रांची, कोलकाता, भुवनेश्‍वर, उत्‍तरी ओडिशा, झारखंड और पश्चिम बंगाल में कई जगहों पर हल्‍की से मध्‍यम बारिश की संभावना है।  

यह भी पढ़ें: पुल की जगह वैकल्पिक मार्ग बनाकर मणिमहेश के श्रद्धालुओं को निकाला 

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप